Latest News

बैंक एकाउंट से ठग ने 50 हजार रुपए उड़ाए

धोखाधड़ी कर दो बार में खाते से निकाली गई रकम
खाते में रकम कम होने से पुत्र बाल-बाल बचा

बांदा, कृपाशंकर दुबे । महिला पेट्रोलियम कारोबारी के खाते से ठग ने 50 हजार रुपये की रकम साफ कर दी। आरोपित ने दो ट्रकों में डीजल भरवाने के लिए महिला कारोबारी को रकम भेजने के नाम पर एक बार कोड भेजा था। बार कोड को स्कैन करते ही आरोपित ने बैंक खाते से दो बार में 50 हजार की रकम साफ कर दी। पीड़ित कारोबारी ने डीआईजी व कमिश्नर समेत कोतवाली पुलिस से मामले की शिकायत की है।
श्रद्धा निगम
स्वराज कालोनी गली नंबर-एक निवासी श्रद्धा निगम पत्नी स्व.रविमोहन निगम का तिंदवारी कस्बे में पेट्रोप पंप है। उनका खाता गूलर नाका स्थित आईसीआईसीआई बैंक में है। रविवार को वह अपने निजी आवास में थीं। इसी दौरान उनके मोबाइल पर एक फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि उसकी गुजरात में पूजा ट्रांसपोर्ट नाम की कंपनी है। उसके दो ट्रक उनके पेट्रोल पंप आ रहे हैं। उनमें 45 हजार रुपये का डीजल भरवाना है। उसने कहा कि वह उनके खाते में आॅनलाइन गूगल पे से रकम भेज देगा। कारोबारी के वॉहट्सऐप पर उसने एक बार कोड भेज दिया और बताया कि बार कोड स्कैन करते ही उनके खाते में रकम आ जाएगी। बातों में आकर कारोबारी ने भेजे गए बार कोड को स्कैन कर दिया। बार कोड को स्कैन करते ही पहली बार में उनके खाते से 25 हजार की रकम साफ हो गई। मोबाइल पर खाते से निकासी का मैसेज आते ही कारोबारी के होश उड़ गए। खाते से रुपये कटने के बाद उन्होंने संबंधित व्यक्ति से बात की तो आरोपित ने रकम वापस करने का झांसा देते हुए दूसरा बार कोड भेजकर दोबारा स्कैन करने की बात कही। झांसे में आकर उन्होंने जैसे ही बार कोड को स्कैन किया तो फिर से खाते से 25 हजार रुपये ठग ने उड़ा दिए। खाते से लगातार रुपये कटने पर उन्होंने आरोपित को फोन लगाकर बात की। ठग ने अपनी गलती मानते हुए उनसे दूसरा खाता नंबर मांगा तो उन्होंने अपने पुत्र कर्ण निगम का नंबर दे दिया। लेकिन पुत्र के खाते में रकम न होने की वजह से ठग सफल नहीं हुआ। आनलाइन ठगी का शिकार होने का अंदेशा होने पर उन्होंने फोन पर बात की तो उसने उनका नंबर ब्लैकलिस्ट में डाल दिया। महिला कारोबारी ने आनलाइन ठगी की शिकायत संबंधित बैंक शाखा प्रबंधक समेत डीआईजी और कमिश्नर व कोतवाली पुलिस से शिकायत की है। 

No comments