Latest News

पाच साल में 350 मरीज हुए कुष्ठ से मुक्त

हमीरपुर, महेश अवस्थी । जिले मे पिछले पांच साल मे 351 मरीजो को कुष्ठ रोग से छुटकारा दिलाया गया है। इसमें 81 एैसे मरीज भी शामिल है जो विकलांग हो गये, उन्हे 25 सौ रूपया प्रतिमाह पेंशन दी जा रही है। अब जागरूकता अभियान चलाकर समाज मे फैली भ्रान्तियों को दूर किया जा रहा है कि यह लाइलाज बीमारी रही है। समय से जांच और दवा खाने पर इसे हराया जा सकता है। वर्ष 2014 -15 में 94 मरीज चिन्हित किये गये इनमें
कर्मचारियों को भ्रान्तियां दूर करने के तरीके बताते अधिकारी
93 दवा खाने से ठीक हो गये। वर्ष 2015-16 में 91 मरीजो का उपचार किया गया। वर्ष 2016-17 मंे 51 मरीज खोजे गये, 55 मरीजा को ठीेक किया गया। वर्ष 2017-18 में 43 के वितरीत 45। वर्ष 2018-19 में 43। वर्ष 2019-20 में 24 के सापेक्ष 23 को हमेशा के लिए कुष्ठ से छुटकारा दिलाया गया। पाच सालो में 351 मरीज कुष्ठ रोग की चपेट में आये, उन्हे बीमारी से छुटकारा दिलाया जा सकता है साथ ही 23 मरीजो का अभी भी इलाज चल रहा है। कुष्ठ पर्यवेक्षक आरके सोनकर ने बताया कि पिछले पांच सालो में 14 साल तक के बच्चो मे कोई नया कुष्ठ रोगी नही मिला है। परामर्श दाता डा मुकेश गुप्ता ने कुष्ठ रोगियों की पहचान बतायी तो सीएमओ आरके सचान ने स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान के तहत विभागीय कर्मियों, अधिकारियों को संदेश सुनाया। सभी स्वास्थ्य केन्द्रो मे कुष्ठ का मुफ्त इलाज कराया जाता है। 

No comments