Latest News

राष्ट्रीय लोक अदालत में 20392 वादों का निस्तारण

अर्थदण्ड के रूप में 360550 रूपये वसूले 

फतेहपुर, शमशाद खान । जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में शनिवार को दीवानी न्यायालय परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न न्यायाधीशों द्वारा कुल 20392 वादों का निस्तारण करके अर्थदण्ड के रूप में 360550 रूपये वसूल किये गये। राष्ट्रीय लोक अदालत की सफलता पर जनपद न्यायाधीश ने सभी का आभार प्रकट किया। 
दीप प्रज्जवलित कर राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारम्भ करते जिला जज।
राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारम्भ जनपद न्यायाधीश ओम प्रकाश त्रिपाठी ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण, दीप प्रज्जवलन एवं मां सरस्वती की वंदना कर किया। जिसमें अपर जनपद न्यायाधीश विजय शंकर उपाध्याय, विशेष न्यायाधीश अनुसूचित जाति/जनजाति (अ0नि0) राकेशधर दुबे, अपर जनपद न्यायाधीश धनेन्द्र प्रताप सिंह, अपर जनपद न्यायाधीश रवीकरण सिंह, अपर जनपद न्यायाधीश श्रीमती पारूल वर्मा, अजय कुमार प्रथम, रविकांत, कमलकांत, अनुभव द्विवेदी ने भाग लिया। वादों का निपटारा किये जाने के लिए अलग-अलग स्टाल लगाये गये। जिसमें बड़ी संख्या में लोग अपने वादों का निपटारा कराये जाने के लिए उमड़े। सुलह-समझौते के आधार पर कुल 20392 वादों व प्रकरणों का निस्तारण किया गया। अर्थदण्ड के रूप में 360550 रूपये वसूल किये गये। मोटर वाहन दुर्घटना प्रतिकर के रूप में 10718000 रूपये प्रतिकर के रूप में दिलाये गये। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष/जनपद न्यायाधीश ओम प्रकाश त्रिपाठी ने समस्त न्यायिक अधिकारियों, प्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों, अधिवक्तागणों, जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष व महामंत्री समेत मीडिया कर्मियों को सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया। 

No comments