मांगों को लेकर डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन ने सीएम को भेजा ज्ञापन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, January 16, 2020

मांगों को लेकर डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन ने सीएम को भेजा ज्ञापन

फतेहपुर, शमशाद खान । लखनऊ मंे साथी अधिवक्ता की हत्या करने वाले हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी किये जाने के साथ ही एडवोकेट्स प्रोटेक्शन एक्ट बनाकर लागू किये जाने की मांग को लेकर डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है। 
डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील मिश्रा व महामंत्री विजय कुमार सिंह की अगुवई में पदाधिकारी कलेक्ट्रेट पहुंचे और मुख्यमंत्री को सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपकर बताया कि लखनऊ के अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी एवं इलाहाबाद के अधिवक्ता सनाउल्ला खां की हत्या करने वाले मुल्जिमानों की गिरफ्तारी शीघ्र की जाये। उनके आश्रितों को पचास लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाये। इसके अलावा पूर्व में जितने भी अधिवक्ताओं की हत्या हुयी है उनके आश्रितों को पचास लाख रूपये की आर्थिक
ज्ञापन देने जाते डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के पदाधिकारी।
सहायता एवं जिन हत्याओं के मुल्जिमानों की गिरफ्तारी नहीं हुयी है उनकी गिरफ्तारी यथाशीघ्र करायी जाये। 70 वर्ष तक मृतक अधिवक्ताओ के आश्रितों को पांच लाख रूपये का जो भुगतान अधिवक्ता कल्याण निधि न्यासी समिति द्वारा किया जाना है के सम्बन्ध में कम से कम पांच सौ करोड़ का कार्पस फाण्ड तुरन्त जारी किया जाये। जिससे उनकेे भुगतान में व्यवधान न हो और निरंतरता बनी रहे। फण्ड न होने के कारण अधिवक्ताओं की विधवाएं एवं आश्रित जिले की बार एसोसिएशन एवं बार काउंसिल कार्यालय के शासन द्वारा पारित अनुदान पाने के लिए चक्कर लगाते रहते हैं। मांग किया कि एडवोकेट्स प्रोटेक्शन एक्ट को बनाकर लागू कराया जाये। जिससे कि अधिवक्ताओं की सुरक्षा हो सके। प्रदेश के सभी न्यायालयों की चहार दीवारी बनवायी जाये और न्यायालय प्रांगण में सुरक्षा की समुचित व्यवस्था करायी जाये। जिससे कि आये दिन न्यायालय परिसर में जो हत्याएं हो रही है उसको रोका जा सके। इस मौके पर अधिवक्ताओ में प्रेमशंकर त्रिवेदी, नीरज मिश्रा, मोहीउद्दीन, अरविन्द नारायण मिश्रा, गिरीश द्विवेदी, अमित तिवारी, वेद प्रकाश तिवारी, दीपचन्द्र त्रिपाठी, हितेन्द्र बहादुर सिंह, मणि प्रकाश दुबे, ममनून खां, जयाउल हसन, मुलायम सिंह यादव सहित तमाम अधिवक्ता मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages