Latest News

नाबालिग दौड़ा रहे ई-रिक्शा, खटारा वाहन से ढोए जा रहे गैस सिलेंडर

विहिप ने कलेक्ट्रेट में किया प्रदर्शन, कार्रवाई की मांग 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । गैस एजेंसी संचालकों द्वारा होम डिलेवरी करने के लिए खटारा वाहनों में गैस सिलेंडर ढुलवाए जा रहे हैं। नाबालिग बच्चों के द्वारा ई-रिक्शा दौड़ाए जा रहे हैं। ऐसे में किसी भी दिन कोई हादसा हो सकता है। विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट परिसर में प्रदर्शन किया और जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। 
कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते विहिप पदाधिकारीगण
विहिप जिलाध्यक्ष चंद्रमोहन बेदी की अगुवाई में शुक्रवार को पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। देर तक नारेबाजी भी की। बाद में जिलाधिकारी को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा। इसमें कहा है कि गैस एजेंसी संचालकों द्वारा शहर में खटारा वाहनों से गैस सिलेंडर की आपूर्ति की जा रही है। गैस सिलेंडर से भरे खटारा वाहन दिन भर शहर में फर्राटा भरते हैं। हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। परिवहन विभाग भी खटारा वाहनों की जांच नहीं करती। वाहनों के पास न तो फिटनेस है और चालक के पास ड्राइविंग लाइसेंस। अवैध तरीके से खटारा वाहनों से गैस की आपूर्ति की जा रही है। इसी तरह शहर की सड़कों पर दिन भर नाबालिग ई-रिक्शा चलाते नजर आते हैं। अफसरों का ध्यान इस ओर नहीं जा रहा। आए दिन दुर्घटनाएं होती हैं। मांग की कि खटारा वाहनों से गैस आपूर्ति तथा नाबालिगों द्वारा वाहन चलाने पर रोक लगाई जाए। 

No comments