Latest News

कैबिनेट मंत्री द्वारा पुल का उद्घाटन करने से सांसद जी भड़क गए

कानपुर शहर दो कद्दावर नेताओं के बीच राजनीतिक रस्साकशी तेज हो गई है। बीते गणतंत्र दिवस पर कैबिनेट मंत्री द्वारा पुल का उद्घाटन करने से सांसद भड़क गए हैं। उन्होंने न केवल केंद्र सरकार तक इसकी शिकायत की बल्कि कहा कि मंत्री को इस पुल के उद्घाटन का नैतिक हक नहीं है। वहीं मंत्री ने कहा कि उन्होंने पुल केवल जनता के लिए खोला है। सांसद की जब इच्छा हो तब इसका उद्घाटन कर सकते हैं।
13 वर्षों के इंतजार के बाद शुरू हुआ सीओडी पुल

13 वर्षों के इंतजार के बाद बहुप्रतीक्षित सीओडी पुल की दूसरी लेन पूरी हो जाने के बाद आईआईटी की लोड टेस्टिंग रिपोर्ट ओके आई थी। इसके बाद विभाग को पुल की दूसरी लेन पर यातायात संचालन शुरू कराकर शुभारंभ कराना था। बीते गणतंत्र दिवस पर औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने सीओडी पुल का फीता काटने के साथ उसपर ई-रिक्शा चलाकर जनता को समर्पित कर दिया था। यह बात क्षेत्रीय सांसद सत्यदेव पचौरी को अखर गई है। उन्होंने इसकी शिकायत केंद्र सरकार के सड़क परिवहन मंत्रालय से भी की है।

पुल के लोकार्पण के लिए नामित हैं राज्यमंत्री वीके सिंह
वार्ता में सांसद ने कहा कि यह आधिकारिक कार्यक्रम नहीं था। विभाग से कोई आधिकारिक कार्यक्रम नहीं आया है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने राज्यमंत्री वीके सिंह को पुल के लोकार्पण के लिए नामित किया है। उन्होंने कहा कि पुल में रेलिंग और पाथवे का काम पूरा नहीं है। इससे हादसे का खतरा है। औद्योगिक विकास मंत्री को पुल के लोकार्पण का नैतिक अधिकार ही नहीं है, क्योंकि इसमें पूरा बजट केंद्र सरकार ने दिया है। यह पुल भी मंत्री की विधानसभा क्षेत्र में नहीं आता, बल्कि उनके संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है। शिकायत के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने इस पर कुछ कहने से इन्कार करते हुए कहा कि यह आंतरिक मामला है।

रेलवे लाइन के शुभारंभ पर भी जताई थी आपत्ति

अभी कुछ दिन पूर्व ही जब गोविंदनगर विधायक सुरेंद्र मैथानी ने रेलवे लाइन का शुभारंभ कर दिया था तो उस पर भी सांसद सत्यदेव पचौरी ने आपत्ति उठाई थी। जबकि वह क्षेत्र उनके संसदीय क्षेत्र का हिस्सा भी नहीं था।

सांसद जब चाहें तब करे लें उद्घाटन

कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने कहा कि 13 वर्षों से जनता पुल बनने का इंतजार कर रही थी। रोजाना लोगों को क्रासिंग पर जाम की समस्या जूझना पड़ रहा था। जनता की परेशानी को देखते हुए उन्होंने यह पुल खुलवाया है। सांसद जब चाहें तब इस पुल का लोकार्पण कर सकते हैं।

No comments