Latest News

गंगा बैराज पर स्कूटी खड़ी कर लापता हुई मेडिकल छात्रा

जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस फाइनल इयर की 24 वर्षीय छात्रा अमृता सिंह गंगा बैराज से लापता हो गई। उसकी स्कूटी बैराज के गेट नंबर 17 के सामने पुल पर खड़ी मिलने से हड़कंप मच गया। लोगों ने छात्रा के गंगा में कूदने की आशंका जताई है। कोहना पुलिस ने गोताखोरों की टीम नदी में उतारी, लेकिन देर शाम तक पता नहीं लगा। इधर सूचना पर मेडिकल कॉलेज के सैकड़ों छात्र भी घटनास्थल पर पहुंच गए।
कानपुर गौरव शुक्ला:- झासी के केकेपुरी कॉलोनी निवासी रामस्नेही सिंह इटावा में सिविल इंजीनियर हैं। उनकी बेटी अमृता एमबीबीएस फाइनल इयर की पढ़ाई कर रही हैं। अगले माह से उसके परीक्षाएं शुरू होनी हैं। गुरुवार दोपहर बाद साढ़े तीन बजे बैराज पुल पर गेट नंबर 17 के सामने अमृता की स्कूटी लावारिस हालत में मिली। चौकी पुलिस ने पूछताछ की और जब कोई जानकारी नहीं मिली तो स्कूटी चौकी पर ले जाने लगी। इसी दौरान अमृता की सहेली अनुशी ने आकर स्कूटी की पहचान की। अनुशी ने बताया कि दोपहर 12 बजे के बाद अमृता कॉलेज से निकली थी। वह काफी तनाव में थी। दोपहर बाद फोन किया तो अमृता कॉल रिसीव नहीं कर रही थीं। तब परेशान होकर अमृता की तलाश शुरू की। उसे ढूंढते हुए बैराज पर आई तो यहां स्कूटी मिली। अनुशी ने अमृता के बैराज से कूदने की आशंका जताते हुए उसे तलाश करने के लिए कहा। पुलिस ने गोताखोरों की टीम नदी में उतारी। नाविकों ने दूर तक जाल भी डाला लेकिन अमृता का पता नहीं लगा।

कोहना थाना प्रभारी प्रभुकात ने बताया कि छात्रा की तलाश की जा रही है। बैराज के जिस गेट के सामने छात्रा के नदी में कूदने की आशंका जताई गई है, वहां नदी में पानी काफी कम है। छात्रा के परिवारवालों को सूचना दे दी गई है। जल्द उसे ढूंढ लिया जाएगा।

12 बजे हुई थी बात, बेटी बोली बाजार जा रही हूं..

इटावा ग्रामीण अभियंत्रण सेवा में सिविल इंजीनियर रामस्नेही की तीन बेटियों में अमृता तीसरे नंबर की है। बड़ी बेटी आरती की शादी हो चुकी है तो छोटी बेटी अनामिका फ्रांस में एमबीए कर रही है। जबकि सबसे छोटा बेटा अमित बीटेक कर रहा है। घटना की सूचना पर पूरा परिवार गुरुवार रात करीब नौ बजे शहर आया। मां श्याम सुंदरी ने बताया कि दोपहर करीब 12 बजे अमृता का फोन आया था। उसने कहा कि कुछ खरीदारी करने बाजार जा रही है। बात करने से ऐसा नहीं लगा कि वह तनाव में है। अगर कोई परेशानी होती तो बताती।

No comments