Latest News

धूमधाम से मनाई गयी जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयन्ती

पिछड़ा, शोषित, वंचित समाज के लोगों को शाल पहनाकर किया सम्मानित

फतेहपुर, शमशाद खान । अति पिछड़ा शोषित वंचित कल्याण संगठन व सविता समाज उत्थान समिति के तत्वाधान में महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व गरीब की लाठी के नाम से प्रख्यात समाजवादी नेता एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयन्ती धूमधाम से मनाई गयी। समाज के लोगों को शाल पहनाकर स्वागत किया गया। वक्ताओं ने उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला। तत्पश्चात प्रधानमंत्री व राज्यपाल को सम्बोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन भी सौंपा। 
कर्पूरी ठाकुर के चित्र पर माल्यार्पण करते अध्यक्ष प्रतिनिधि हाजी रजा।
नहर कालोनी परिसर में जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयन्ती कार्यक्रम का आयोजन प्रदेश महासचिव प्रो0 मिथलेश कुमार सविता की अध्यक्षता में किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य/विशिष्ट अतिथि नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष नजाकत खातून के प्रतिनिधि हाजी रजा द्वारा दीप प्रज्जवलन व जननायक कर्पूरी ठाकुर की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ हुआ। प्रदेश अध्यक्ष राम आसरे प्रजापति ने जनायक के कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कर्पूरी जी भारत की आजादी की लड़ाई में सक्रिय भूमिका निभाते हुए लगातार कई वर्षों तक जेल में रहे। कई लड़ाईयां भी उन्होने लड़ी और शोषित, वंचित समाज को उनका हक दिलाने का काम किया। जिलाध्यक्ष बुद्धराज धाकड़ी ने कहा कि कर्पूरी जी के विचारों व सिद्धान्तों से ही सामाजिक न्याय को मजबूत कर सामाजिक सदभावना स्थापित की जा सकती है। जिला संरक्षक अवकाश प्राप्त सहायक निदेशक डाक तार विभाग शिवसागर साहू ने अपने संस्मरण में बताया कि अपने सेवाकाल में मुजफ्फरपुर, बिहार में कर्पूरी जी को उन्होने बहुत ही नजदीक से देखा है। कर्पूरी जी ने जो चरित्र, देशभक्ति व ईमान का उदाहरण प्रस्तुत किया है वह सर्व समाज के नौजवानों के लिए अनुकरणीय है। कार्यक्रम को संरक्षक सदस्य रामप्यारे मौर्य एडवोकेट, सतीश शिवहरे ने भी सम्बोधित किया। तत्पश्चात समाज के लोगों को शाल पहनाकर सम्मानित किया गया। संगठन की ओर से मुख्य अतिथि हाजी रजा को चांदी का मुकुट पहनाकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री व राज्यपाल को सम्बोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया। इस मौके पर पूर्व ब्लाक प्रमुख रीता प्रजापति, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि राजू साहू, प्रेमचन्द्र प्रजापति, रजोल सेन, बृजेश सेन, हीरालाल सविता, इन्द्र प्रकाश कश्यप, श्रीकांत पाल, बंशगोपाल पाल, राम बाबू पाल, राम किशोर सविता, संजय सिंह सविता, राकेश साहू, मूलचन्द्र सैनी, ओम प्रकाश सविता, दिनेश सोनी, विजय गौड़, राम प्रकाश फौजी, डा0 शिवशरण प्रजापति, बुद्धूलाल प्रजापति, चन्द्र प्रकाश फौजी, गुलाब सिंह, हनुमान सिंह चैहान, मो0 आसिफ, धीरज बाल्मीकि आदि मौजूद रहे। 

No comments