Latest News

कन्या सुमंगला योजना: लक्ष्य पूरा करने के निर्देश

बिजनौर (संजय सक्सेना)  जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने अपर मुख्यचिकित्साधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में स्थित सरकारी अस्पतालों व प्राईवेट अस्पतालों में जन्म लेने वाली कन्याओं का शत् प्रतिशत कन्या सुमंगला योजना में रजिस्ट्रेशन कराया जाना सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि जनपद को प्राप्त लक्ष्य जल्द से जल्द पूरा कराया जाये ताकि प्रदेश स्तर पर जनपद की स्थिति में सुधार हो सके। संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि कन्या सुमगंला योजना को और अधिक प्रभावी और पारदर्शी बनाने के लिए शासन द्वारा जो संशोधन किए गए हैं, उनके अनुसार योजना का संचालन करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय सोमवार सुबह 11.00 बजे  कलेक्ट्रेट सभागार में बेटी बचाओ बेटी पढाओ जन जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत जिला टाॅस्क फोर्स समिति की बैठक में उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे थे। 
जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या सुमगंला योजना में कुछ बदलावे किये गये हैं, जिनमें अब क्षेत्रीय बैकों के खातों को भी शामिल किया गया है और जिन फार्मों में किसी कारणवश खाता संख्या गलत हो जाती है, उन्हें भी निदेशालय की मदद से सन्शोधित किया जा सकता है। कन्या सुमंगला योजना में अब आधार कार्ड को सर्वप्रथम वरीयता दी जायेगी और माता के बैंक खाता न होने पर पिता का बैंक खाता भी मान्य होगा। जिला विद्यालय निरीक्षक और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि समस्त स्कूलों में जिन बालिकाओं के मुख्यमंत्री कन्या सुमगंला योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन अभी तक नहीं हुए है, उन्हें जागरूक कर रजिस्ट्रेशन के बारे में बताया जाये। जिलाधिकारी ने बताया कि 20 जनवरी से 26 जनवरी, 2020 तक बेटी बचाओ बेटी पढाओ सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है, जिसमें विभिन्न कार्यक्रम जनपद में कराये जायेंगे। जिन विभागों को इस सप्ताह के लिए कार्यक्रम निर्धारित किए गये हैं, संबंधित विभागीय अधिकारी पूरी गुणवत्ता के साथ कार्यक्रम को सम्पन्न कराया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने बेटी बचाओ बेटी पढाओ जनजागरूकता विषय पर शपथ दिलाते हुए कहा कि हम बेटों  और बेटियों में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करेंगे और भू्रण हत्या न तो करेंगे और न किसी को करने देंगे। उन्होंने कहा कि बेटियों को शिक्षा एवं उन्नति के समान अवसर प्रदान करेंगे तथा उनके सम्मान की रक्षा करेंगे। बेटियों के सशक्तिकरण की दिशा में हर वो कदम उठायेंगे जिसमें उनकी सामाजिक प्रतिष्ठा एवं सम्मान में वृद्वि हो सके। 
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कामता प्रसाद सिंह, परियोजना निदेशक विजय प्रकाश श्रीवास्तव, समस्त उपजिलाधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी सहित संबंधित विभागयी अधिकारी मौजूद रहे।

No comments