Latest News

यातायात पुलिस के खिलाफ विक्रम चालकों ने खोला मोर्चा

निजी पार्किंग में खड़े वाहनों का जबरन चालान कर रही पुलिस
संचालन बंद होने से मानसिक व आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे चालक 

फतेहपुर, शमशाद खान । शहर की यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ बनाये जाने के नाम पर पुलिस उपाधीक्षक नगर के निर्देशन में यातायात पुलिस द्वारा शहर के बाहर संचालित होने वाले विक्रमों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई से आहत होकर विक्रम चालकों ने शुक्रवार को ज्वालागंज स्थित रामलीला ग्राउण्ड में प्रदर्शन कर यातायात पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। तत्पश्चात कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर समस्या से अवगत कराते हुए बताया कि पुलिस की इस अनैतिक कार्रवाई से उनके सामने आर्थिक व मानसिक परेशानियां उत्पन्न हो गयी हैं। जबकि वह सभी परमिटधारी वाहन संचालक हैं। 
रामलीला मैदान में प्रदर्शन करते विक्रम चालक।
शहर के ज्वालागंज स्थित रामलीला ग्राउण्ड में विक्रम चालक एकत्र हुए और यातायात पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए प्रदर्शन किया। तत्पश्चात कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपकर बताया कि वह सभी परमिटधारी विक्रम चालक हैं। सरकार को समय से टैक्स की अदायगी भी कर रहे हैं और विक्रम चलाकर अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। चालकों की अगुवई कर रहे सुशील कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस उपाधीक्षक नगर के निर्देशन में यातायात पुलिस द्वारा विक्रम चालकों का शोषण किया जा रहा है। जबकि यह सभी विक्रम शहर में संचालित न होकर शहर से बाहर थरियांव, हस्वा, बिलन्दा, आबांपुर संचालित होते हैं। विक्रमों से शहर में जाम की समस्या भी उत्पन्न नहीं होती। ज्वालागंज में जाम की समस्या को देखते हुए सभी चालकों ने रामलीला ग्राउण्ड में निजी पार्किंग बना रखी है और वहीं से सवारियां भी भरते हैं। लेकिन उपनिरीक्षक यातायात अकबर अली द्वारा सड़क से दो सौ मीटर दूर खड़े लगभग चार दर्जन विक्रमों का 22 जनवरी को चालान कर दिया गया और इनके संचालन पर रोक लगाये जाने के निर्देश दिये है। विक्रम चालकों ने कहा कि यदि विक्रम का संचालन बंद हो गया तो उनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो जायेगा। बताया कि काफी समय से पुलिस उत्पीड़न झेल रहे सभी चालक आर्थिक व मानसिक परेशानियों से गुजर रहे है। सभी चालकों ने जिलाधिकारी से मांग किया कि उन्हें पार्किंग स्थल के साथ-साथ पुलिस उत्पीड़न से छुटकारा दिलाया जाये। यदि जिला प्रशासन उनकी मांग पूरी नहीं कर पा रहा है तो सभी के परमिट निरस्त करके संचालन बंद करवा दे। इस मौके पर मो0 जुनैद, मो0 रफी, मो0 अमन, बलराम सिंह, राकेश, अकरम, जुबैर, मन्नी, इदरीस, बलराज पाल यादव, हसन, इसराइल, अनिल, बसंत कुमार, शिव मोहन, चमन, वीरन मौर्य, नफीस, पीताम्बर सिंह आदि विक्रम चालक मौजूद रहे। 

No comments