Latest News

मैला ढोने वाले परिवारों के लिये ‘प्रयास संस्था’ ने आटा में लगाया स्वास्थ शिविर कैम्प

पांच राज्यों के 8 सदस्यीय टीम कर रही रिसर्च व स्वास्थ परीक्षण
14 को टाउन हाल उरई में होगा आयोजन   

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । जिले के मैला ढोने बाले परिवारों व सफाई कर्मियों के लिये सामाजिक संस्था प्रयास जन उत्थान समिति, दलित फाउंडेशन की और से आटा अम्बेडकर इंटर कॉलेज में स्वास्थ शिविर कैम्प का आयोजन किया गया। जिसका शुभारम्भ उप जिलाधिकारी कालपी कौशल कुमार अशोक द्वारा किया गया। वही महाराष्ट्र, केरला, मध्यप्रदेश, छतीसगढ़ सहित 5 राज्यों से आये स्पेशलिस्ट डॉ. नितिन धुर्वे, डॉ. शिरिन कुमार. डॉ. श्रीनिधि दातर, डॉ. अनीता राठौर, डॉ. साबित्री, डॉ. प्रियदर्श, डॉ. अक्षय, डॉ. विदित पांचाल सहित 8 सदस्यीय डॉक्टरों के पैनल ने महेवा व कदौरा विकास खंड लगभग 60 गावं की 300 से अधिक मैला ढोने बाली महिलाओं व सफाई कर्मियों का निःशुल्क स्वास्थ परीक्षण किया जिसमे उनके बजन, ब्लड प्रेसर, सुगर, एच.बी. आदि टेस्ट करते हुए स्वास्थ जांच, परामर्श एवं उपचार किया गया व उन्हें संबंधी दवाएं भी दी गई।
   
स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में मंचासीन अतिथि।
डॉक्टरों के पैनल ने बाते की मैला ढ़ोने बाली महिलाओं व सफाई कर्मियों के स्वास्थ की स्तिथि बेहद चिंताजनक है, कई तरह से शारीरिक इन्फेशन देखने को मिले है, हमारी टीम सभी मरीजांे पर रिसर्च भी कर रही है आखिर इन महिलाओं में किस तरह बीमारी हो रही है आखिर इन्हें कैसे स्वस्थ रखा जाये ताकि ये सभी स्वस्थ जिन्दगी जी सके। कैम्प का उद्घाटन करने आये उप जिलाधिकारी दृ कालपी कौशल कुमार अशोक जी ने कहा संस्था दुवारा यह बहुत ही सराहनीय पहल है की गव स्तर पर जाकर समाज के सबसे कमजोर तबके को जागरूक किया जा रहे एवं उनके स्वास्थ को लेकर प्रयास किये जा रहे है सभी को डॉक्टर की सलाह के हिसाब से अपने स्वास्थ की देखभाल करनी जरूरी है। ज्ञात हो प्रयास जन उत्थान समिति व बुंदेलखंड दलित अधिकार मंच जो की पिछले 4 वर्षों से लगातार जनपद में मैला ढ़ोने की कुप्रथा की समाप्ति व इस पेशे में संलिप्त परिवारों के सशक्तिकरण व इनके बच्चों शिक्षा व स्वस्थ को लेकर सरकार के साथ पैरवी करते हुए कार्य किया जा रहा है स्वस्थ शिविर कैम्प के बारे में विस्तृत जानकरी देते हुए संस्था के संयोजक कुलदीप कुमार बौद्ध ने बताया की संस्था का लगातार प्रयास यही रहा है की समाज के सबसे कमजोर तबके तक पहुंचकर उनके हक अधिकार एवं सम्मान के लिए कार्य करना वर्तमान समय में मैला ढोने बाली महिलाओं के स्वास्थ को ध्यान में रखते हुये जनपद में 3 कैम्पों का आयोजन किया गया जिसमे कदौरा नगर पंचायत में लगभग 250 से अधिक मैला ढोने बाले सफाई कर्मियों के स्वस्थ का परीक्षण किया गया है और आज आटा कैम्प में भी लगभग 300 लोगों के स्वास्थ की जाँच की गयी, 14 जनवरी को उरई शहर के नगर पालिका, टाउन हाल में कैम्प का आयोजन किया जा रहा है, संस्था की अपील है की ज्यादा से ज्यादा मैला ढोने बाले परिवार इस स्वस्थ कैम्प में पहुंचकर अपने स्वास्थ की जांच जरूर कराएं। इस मौके पर संस्था टीम से दीपा, रिहाना, कृष्णकुमार, रामकुमार, रीता, राजकुमार, संजय बाल्मीकि, कल्पना, धर्मपाल, शिवराम पाल, राजेश्वरी गौतम व प्रीती बौद्ध, कल्पना, अजीत, अविलाख, जितेन्द्र, सुरजीत, राजेश, पंचम, कंचन विद्या सागर, राजकुमार, सत्यवीर, एसडी दिवाकर, अमित पाण्डेय, केस विश्वकर्मा, हिमगिरी होरीलाल अध्यापक, तिलकचंद्र प्रबंधक, केके प्रजापति आदि उपस्थित रहे।

No comments