Latest News

शहर में साईं पालकी यात्रा ने किया भ्रमण, जगह-जगह हुई पूजा

दोपहर बाद मंदिर में आयोजित हुआ कन्या भोज और भंडारा 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । शुक्रवार को श्रद्धालुओं ने गाजे-बाजे के साथ धूमधाम से साईं पालकी निकाली। श्रद्धालुओं ने जगह-जगह आरती उतारी और प्रसाद वितरित किया। पुष्प वर्षा भी की। शहर के प्रमुख मार्गों से भ्रमण के बाद मंदिर पहुंच कर साईं पालकी का समापन हुआ। दोपहर बाद मंदिर परिसर में कन्या भोज के साथ भंडारा आयोजित हुआ। हजारों लोगों ने भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया। 
साईं पालकी का स्वागत करते श्रद्धालु 
कैलाशपुरी स्थित शिव साईं मंदिर के वार्षिकोत्सव पर साईं पालकी निकाली गई। बैंडबाजों और डीजे की धुन पर महिला-पुरुष श्रद्धालु नाचे-थिरके। श्रद्धालुओं ने पुष्प वर्षा करते हुए पालकी पर सवार साईं बाबा की आरती उतारी। बलखंडी नाका, महेश्वरी देवी, चैक बाजार, कोतवाली रोड, छिपटहरी, छोटी बाजार, झंडा चैराहे और बांबेश्वर होते हुए मंदिर पहुंचकर साईं पालकी का समापन हुआ। अश्व नृत्य आकर्षण का केंद्र रहा। भव्य पालकी पर विराजमान शिरडी के साईं बाबा पर रास्ते भर पुष्प वर्षा हो रही रही थी। पालकी के आगे साईं भजनों पर
पालकी यात्रा में शामिल महिला व पुरुष 
भक्त नाचते-गाते चल रहे थे। हाथ में ध्वज लेकर बाबा का जयघोष करते चलतीं महिलाएं व बच्चे वास्तव में साईं बाबा की स्मृतियों को जीवंत कर रही थीं। इस दौरान ‘शिरडी के दाता सबसे महान’ और ‘साईं तेरे भक्त हमेशा तेरे साथ रहे’ जैसे गीतों पर भक्त जमकर झूमे। लाउडस्पीकरों पर बज रहे साईं गीतों से शहर का माहौल भक्तिमय रहा। यात्रा में इस दौरान यात्रा का जगह-जगह स्वागत कर खिचड़ी वितरित की गई। दोपहर बाद मंदिर परिसर में कन्या भेज के साथ भंडारे की शुरुआत हुई। भंडारे में भारी संख्या में भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया। साईं सेवा में नीरज गुप्ता, प्रवीन निगम, सुनील गुप्ता, सुभाष अग्रवाल, गुड्डू श्रीवास्तव, दीपक गुप्ता, पवन अवस्थी और आदि ने मुख्य भूमिका निभाई। 

No comments