Latest News

एनीमिया मुक्त भारत अभियान के लिए अनूठी पहल

मुस्लिम धर्म गुरु ने की अभियान में सक्रिय भूमिका निभाने की अपील

बिजनौर (संजय सक्सेना) जनपद को एनीमिया मुक्त बनाने के उद्देश्य से धार्मिक स्थल से लोगो को जागरूक करने की अनूठी पहल की गयी। मुस्लिम धर्मगुरु के साथ स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो ने एनीमिया मुक्त भारत अभियान को पोलियो मुक्त भारत की तरह सफल बनाने का आह्वान किया | इस मौके पर जमीयत उलेमा ए हिन्द के जिला सदर मौलाना अरशद महमूद कासमी ने कहा  लोग एनीमिया मुक्त भारत अभियान में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले |
जामा मस्जिद खैरुल मनाज़िल में जुमे की नमाज से पहले मस्जिद के इमाम ए खतीब मौलाना अरशद महमूद कासमी ने जानलेवा बीमारियो से बचने के लिए जरुरी टीकाकरण कराने की अपील की।

मस्जिद में एनीमिया मुक्त भारत अभियान के नोडल अधिकारी 

डिप्टी सीएमओ डा. देवीदास ने कहा कि बच्चों, किशोरियों,  गर्भवती व धात्री महिलाओं को एनीमिया के प्रति जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभियान चलाया जा रहा है, जो कि 31 मार्च 2020 तक चलेगा।
यूनिसेफ से प्रवीण कुमार ने कहा सरकार का कोई भी कार्यक्रम तब तक सफल नहीं होगा जब तक समाज की भागीदारी नहीं होगी | वर्तमान में हर दूसरा बच्चा एनिमिक है इसीलिए हर आयुवर्ग के लोगो को आयरन की टेबलेट का इस्तेमाल करना चाहिए |
मस्जिद में डा. जेडी अंसारी, डा. परवेज आलम, डा. ऐजाज शमसी व डा. शहजाद शमसी ने एनीमिया मुक्त भारत अभियान को सफल बनाने का सभी से आह्वान किया | डा. देवीदास ने बताया अभियान में माध्यमिक शिक्षा, बाल  विकास एवं पुष्टाहार विभाग तथा पंचायती राज विभाग का सहयोग लिया जा रहा है। अभियान के तहत 6 माह से 5 वर्ष तक के 456872, 5 वर्ष  से 10 वर्ष तक के 107971, 10 से 19 वर्ष तक के 76229 बच्चों, 20 से 24 वर्ष तक के 18870 युवाओं, 1॰10 लाख गर्भवती महिला व 1॰08 लाख धात्री महिलाओं को एनीमिया से मुक्त किया जाना है। अभियान के तहत विद्यालयों में प्रत्येक सोमवार को मिड डे मील के उपरान्त अलग-अलग गतिविधियां संचालित की जा रही हैं। आशा, आंगनबाड़ी व एएनएम अपने-अपने क्षेत्रों में एनीमिया के प्रति जागरूकता बढ़ाने का प्रयास कर रही हैं|

No comments