Latest News

जरूरतमंदों को ‘बांदा की गरिमाओं’ ने ओढ़ाई गर्म ओढ़नी

गर्म कपड़ों और ऊनी वस्त्रों, कंबलों का किया वितरण 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । हाड़कंपाऊ ठंड से बचाव के लिए ‘बांदा की गरिमाएं’ संगठन जरूरतमंदों की सहायता के लिए आगे आई है। सर्द हवाओं की ठिठुर रहे गरीब-असहायों को बचाने के लिए महिला समाजसेवियों ने शहर के विभिन्न इलाकों का भ्रमण करते हुए उन्हें ठंड से बचाव के लिए गर्म कपड़े व कंबल वितरित किए।
महिलाओं के संगठन ‘बांदा की गरिमाएं’ ने शनिवार को संकट मोचन परिसर समेत महेश्वरी देवी आदि के बाहर
गरीबों को वस्त्रों का वितरण करतीं संगठन की महिलाएं 
भीख मांग कर गुजारा करने वाली गरीब-असहाय महिला-पुरुषों को कंबल के साथ गर्म कपड़े बांटे। संगठन अध्यक्षा भावना राय ने कहा कि भौतिकवादी युग में दयावानों की कमी नहीं है। ठंड से बचाव के लिए संगठन बनाकर महिलाओं को जोड़कर समाजसेवा का अभियान शुरू किया गया। संगठन से जुड़ी सभी महिलाओं ने बढ़चढ़कर भागीदारी की। सविता सिंह सिसौदिया ने कहा कि न सिर्फ बड़े-बुजुर्गो व महिलाओं बल्कि बच्चों को विशेष रूप से कंबल वितरण कर सर्दी से राहत पहुंचाई गई। मंजू गुप्ता ने कहा कि जरूरतमंदों की सहायता करने में संगठन की महिलाओं को सुकून मिलता है। बताया कि समाजसेवा की इसी कड़ी में संगठन के जरिये बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और पढ़ेगा इंडिया तभी तो आगे बढ़ेगा इंडिया जैसी मुहिम से भी जुड़कर साथ चलेंगे। कंबल और गर्म कपड़ा वितरण के दौरान नीलम, पूजा, शशि, अर्चना, राखी, ऊषा, नंदिता, मंजूषा, शालिनी, मंजू, यशी, रोशनी, सोनल, किरन, निशी, सुनीता, रिचा, अंजना, मीरा, चेतना, रजनी, पूजा, अभिलाषा, ज्योति आदि शामिल रहीं।

No comments