Latest News

प्रेम में बाधा बने पति को प्रेमी के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट

एसपी समेत अन्य अधिकारियों ने घटनास्थल का किया निरीक्षण
पत्नी को हिरासत में लेकर प्रेमी की गिरफ्तारी के लिए दबिशें दे रही पुलिस

फतेहपुर, शमशाद खान । रिश्ते को शर्मसार करने वाली एक सनसनीखेज घटना प्रकाश में आयी है। जहां बुधवार की रात प्रेमिका ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर सो रहे पति को धारदार हथियार से मारकर मौत के घाट उतार दिया। घटना के बाद प्रेमी मौके से फरार हो गया। उधर सनसनीखेज हत्या की घटना की सूचना पाते ही पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह, क्षेत्राधिकारी सदर केडी मिश्रा, थानाध्यक्ष हुसैनगंज सहित भारी पुलिस बल घटनास्थल पहुंचकर मौका-ए-वारदात का बारीकी से निरीक्षण किया। एसपी ने हत्यारे को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिये। पुलिस ने मृतक की पत्नी को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। वहीं पुलिस हत्यारे की तलाश में छापेमारी कर रही है। 
जिला चिकित्सालय के माच्र्युरी हाउस में खड़े मृतक के परिजन।
जानकारी के अनुसार हुसैनगंज थाना क्षेत्र के ग्राम चांदपुर मजरे सहिमापुर निवासी भवानी का 40 वर्षीय पुत्र जसवंत बीती रात खाना खाने के बाद अपनी दूसरी पत्नी प्रतीक्षा सिंह के साथ कमरे में सो रहा था। तभी अर्द्धरात्रि एक युवक उसके कमरे में दाखिल हो गया और सो रहे जसवंत पर ताबड़तोड़ धारदार हथियार से हमला करने लगा। जिससे जसवंत की घटनास्थल पर मौत हो गयी। घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा मौके से फरार हो गया। वहीं घटना की सूचना पाते ही पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी सदर व हुसैनगंज थानाध्यक्ष सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करने के बाद कप्तान ने थानाध्यक्ष को जल्द से जल्द हत्यारे को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये। वहीं शक के आधार पर पुलिस ने मृतक की पत्नी प्रतीक्षा को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल के माच्र्युरी हाउस में रखवा दिया। वहीं मृतक का बड़ा भाई रावेन्द्र ने घटना के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि उसके छोटे भाई जसवंत की पहली पत्नी गुड्डन की आठ वर्ष पूर्व बीमारी के कारण मौत हो गयी थी। जिससे उसकी दो संताने हैं। पत्नी के निधन के बाद उसने प्रतीक्षा सिंह से शादी कर ली। जिससे एक संतान है। बताया जाता है कि पिछले एक साल से नसीरपुर गांव निवासी संग्राम सिंह पुत्र कुंवर बहादुर से मृतक की पत्नी के अवैध संबंध थे। जिसको लेकर कई बार घर में दोनों के बीच कहासुनी हुयी। लेकिन प्रेम में पागल पत्नी के सिर पर जूं तक नहीं रेंगी। आखिरकार प्यार में बाधा बन रहे पति को दुनिया से उठाने का फैसला ले लिया और योजनाबद्ध तरीके से पत्नी ने रात में खाने में जहर मिलाकर खिला दिया। कुछ देर बाद जब वह अचेत हो गया तो रात लगभग ग्यारह बजे प्रेमी अंदर दाखिल हुआ और चारपाई पर सो रहे जसवंत को ताबड़तोड़ धारदार हथियार से कई वार कर दिये। जिससे उसकी घटनास्थल पर मौत हो गयी। घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा मौके से फरार हो गया। मृतक के भाई ने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने पत्नी प्रतीक्षा को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने मृतक के भाई राघवेन्द्र से तहरीर ले ली है। उधर पुलिस हत्यारे की तलाश में दबिशे दे रही है। 

No comments