चौपाल लगा डीएम ने सुनी समस्याएं - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, January 4, 2020

चौपाल लगा डीएम ने सुनी समस्याएं

विकास कार्यों का सत्यापन कर तत्काल समस्या निदान के दिए निर्देश
गौशाला व्यवस्थाओं का लिया जायजा

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में विकास खण्ड चित्रकूटधाम कर्वी के ग्राम पंचायत बैहार में चैपाल का आयोजन हुआ। उन्होंने विकास कार्यों का सत्यापन कर स्थलीय निरीक्षण किया।
जिलाधिकारी ने ग्रामवासियों से कहा कि चैपाल के माध्यम से जिला स्तरीय अधिकारी विभाग की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जा रहा है। गांव में कराए गए विकास कार्यो का सत्यापन भी किया जाता है। उन्होंने ग्राम प्रधान व सचिव को निर्देश दिए कि वृद्धा, विधवा, दिव्यांग पेंशन के अगर कोई लाभार्थी छूट गए हैं उनका तत्काल आवेदन पत्र भरा कर पेंशन दिलाने का कार्य किया जाए। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि जो राशन कार्ड की समस्या हो उसको देखकर निस्तारण कराएं। जिन्हें परिवार के मुताबिक खाद्यान्न प्राप्त नहीं हो रहा है उसमें जो कमी हो उसको दूर कराया जाए। ग्राम प्रधान व सचिव को निर्देश दिए कि जितने भी हैंडपम्प रिबोर व मरम्मत योग्य हैं उनको तत्काल ठीक कराया जाए। प्रधानमंत्री आवास में कहा कि जिन लोगों के आवास
 
अधूरे हैं उन्हें पूर्ण कराएं। अगर वह पूर्ण नहीं करते हैं तो उन लाभार्थियों से वसूली कराई जाए जो नये आवासों की सूची है उसका मिलान करते हुए जो पात्र व्यक्ति छूट गए हैं उन्हें शामिल करें। जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी को निर्देश दिए कि जिला स्तरीय अधिकारियों को लगाकर हैंडपंपों का संचालन, शौचालय, आवास आदि का सत्यापन कर रिपोर्ट दें। शौचालय पर कहा कि जो लोग छूट गए हैं उन्हें भी लाभ दिया जाए। एलोबी के शौचालय जब तक पूर्ण नहीं होंगे तब तक द्वितीय किस्त जारी नहीं की जाएगी। मनरेगा के कार्यों पर कहा कि ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि कुछ कार्य नहीं हुए हैं। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि कमेटी बनाकर जांच करें। जिन लोगों के जॉब कार्ड नहीं बने हैं उनके बनाकर उन्हें काम दिया जाए। राज्य वित्त तथा चैदहवां वित्त आयोग के कार्यों की भी जांच टीम बनाकर कराएं। ग्राम प्रधान तथा सचिव से कहा कि ग्राम पंचायत में काफी धनराशि पड़ी है इसमें तत्काल विकास कार्य कराए। उन्होंने विद्यालय के बच्चों से पठन-पाठन, जूता, मोजा, किताब, स्वेटर, भोजन आदि के बारे में विस्तृत जानकारी की। विद्युत विभाग की समस्या पर कहा कि शिविर में निराकरण करा लें। इसके अलावा आयुष्मान भारत योजना तथा किसान सम्मान निधि के भी कैंप लगाए गए। विद्यालय के रास्ता निर्माण की मांग पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी कर्वी को निर्देश दिए निस्तारण कराया जाए। विद्यालय पहुंच मार्ग निर्माण में ध्यान न देने पर उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि जवाब तलब करें। जिलाधिकारी ने बाल विकास विभाग द्वारा संचालित मीनिंग फूड के पैकेट गर्भवती महिलाओं तथा धात्री महिलाओं को वितरित किया। तत्पश्चात ग्राम का भ्रमण किया। आवास तथा शौचालय को देखा। रमपुरवा ग्राम के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि सड़क में पानी भरा हुआ है। जिससे विद्यालय में बच्चों को जाने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी कर्वी को निर्देश दिए कि तत्काल इसका निस्तारण कराया जाए। तदोपरांत जिलाधिकारी ने गौशाला का औचक निरीक्षण किया। जहां पर रजिस्टर गोवंश के चारा, भूसा, पानी, शेड आदि की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए गोवंशों का स्वास्थ्य परीक्षण प्रतिदिन किया जाए। कोई भी गोवंश बीमार नहीं होना चाहिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, उप जिलाधिकारी कर्वी अश्विनी कुमार पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर, क्षेत्राधिकारी नगर रजनीश यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा विनोद कुमार, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ केपी यादव, खण्ड विकास अधिकारी सुनील सिंह सहित संबंधित अधिकारी, ग्राम प्रधान रामचंद्र यादव, सचिव मनीष कुमार सहित ग्रामीण मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages