Latest News

फिर शुरू हुआ सर्दी का सितम, चार अस्पताल में भर्ती

कुहासे भरे मौसम में ठंड से ठिठुरते रहे लोग 
अलाव जलाकर किसी तरह से ठंड से किया बचाव 
बारिश और ओलावृष्टि से फिर बढ़ गई ठंड 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । बारिश और ओलावृष्टि के कारण ठंड का सितम एक बार फिर से शुरू हो गया है। कुहासे भरी शुक्रवार की सुबह लोग ठंडी हवाओं के झोंकों से ठिठुरते नजर आए। अलाव जलाकर किसी तरह से लोगों ने ठंड से अपना बचाव किया। हालांकि प्रशासन की ओर से स्कूलों में छुट्टी घोषित थी। इसकी वजह से मासूम बच्चों को ठंड में परेशान नहीं होना पड़ा। लोगों का कहना है अभी ठंड और बढ़ने वाली है। इधर तापमापी पारे की सुई 20 डिग्री सेल्सियस अधिकतम पर पहुंच गई। दो डिग्री तापमान लुढ़क गया। ठंड से पीड़ित होने पर चार 
लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहां उनका उपचार किया जा रहा है। 
शुक्रवार को कोहरे से ढकी नजर आई सुबह
 कातिल ठंड का सितम जारी है। पछुआ हवा और कोहरे की घनी चादर के साथ शीतलहर ने लोगों को परेशान कर रखा है। दो दिनों पहले हुई बारिश और ओलावृष्टि के बाद ठंड के साथ गलन बढ़ गई। अचानक बढ़ी ठंड से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। ठंड ने एक बार फिर से अपना कातिल सितम शुरू कर दिया। शुक्रवार की सुबह जबरदस्त कोहरा था। आसमान पूरी तरह से कोहरे की आगोश में था। कुहासे भरी ठंड में अपने घरों से मजबूरन बाहर निकले लोग ठिठुरते नजर आए। अलाव जलाकर लोगों ने ठंड ने अपना बचाव किया। इधर, ठंड से पीड़ित होने पर दो महिलाओं समेत चार लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें देहात कोतवाली 
अलाव में बदन सेंककर ठंड से बचाव करते लोग
क्षेत्र के जमालपुर गांव निवासी शिव कुमारी (55) पत्नी रामसजीवन, गिरवां थाना क्षेत्र के बंडे गांव निवासी रामसुमेर (46) पुत्र काशी प्रसाद, मरका थाना क्षेत्र के पिंडारन गांव निवासी सुरेश (24) पुत्र कौशल और शहर के मर्दन नाका निवासी रजिया (24) पत्नी सुल्तान शामिल हैं। बारिश और ओलावृष्टि के बार एकबारगी ठंड फिर से बढ़ जाने के कारण लोग सकते में हैं। कोहरे की धुंध और ठंडी हवाओं के झोकों ने एक बार फिर से तापमापी सुई को नीचे की ओर धकेल दिया हैं। ठंड के कारण दो डिग्री तापमान लुढ़कते हुए 20 डिग्री अधिकतम पहुंच गया। हालांकि शुक्रवार को कुछ समय के लिए धूप खिली, लेकिन ठंडी हवाओं के झोंकों ने धूप के असर को काफूर कर दिया। 

No comments