Latest News

अंतिम संस्कार के लिए जा रहे महिला के शव को मायके पक्ष ने रोका

ससुरालीजनों पर करंट देकर मारने का लगाया आरोप
पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर माच्र्युरी में रखवाया

फतेहपुर, शमशाद खान । एक पखवारे पूर्व दहेज की मांग को लेकर कमरे में सो रही पत्नी को करंट लगाकर मारने की कोशिश की। झुलस जाने के कारण घर पर ही इलाज करवाया जा रहा था। मंगलवार की सुबह पति द्वारा पत्नी को इंजेक्शन लगाया गया। उसके बाद ही उसकी हालत बिगड़ गयी। कुछ ही देर बाद युवती ने दम तोड़ दिया। उधर पुलिस को बिना सूचना दिये शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जा रहे थे। तभी जानकारी मिलने पर मायका पक्ष वर्मा चैराहे पहुंचा जहां लोडर को रूकवा लिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। वहीं पति को पूछताछ हेतु हिरासत में ले लिया। 
वर्मा चैराहे पर लोडर से शव को कब्जे में लेती पुलिस।
जानकारी के अनुसार गाजीपुर थाना क्षेत्र के मदरियापुर गांव निवासी दुर्गा प्रसाद पाल ने अपनी पुत्री प्रियंका 19 वर्ष की शादी तीन मार्च 2019 को थरियांव थाना क्षेत्र के रतीपुर गांव निवासी राम प्रसाद के पुत्र शिवभवन के साथ की थी। विगत 22 दिसम्बर को दहेज को लेकर पति ने कमरे में सो रही पत्नी के हाथ में बिजली का तार लपेटने के बाद करंट देकर मारने की कोशिश की। अच्छाई यह थी कि उसी समय लाइट चली गयी लेकिन करंट के कारण उसका बुरी तरह झुलस गया था। जिसका इलाज घर में किया जा रहा था। आज सुबह कुछ हालत बिगड़ने पर पति ने पत्नी को इंजेक्शन लगाया। जिसके लगते ही वह बेहोश होकर गिर पड़ी और कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया। वहीं ससुरालीजन पुलिस को बिना सूचना दिये ही शव का अन्तिम संस्कार करने के लिए लोडर में लादकर भिटौरा जा रहे थे। इसकी जानकारी जब मायका पक्ष को हुयी तो मां सुनीता देवी, बहन प्रीती, शिवानी, अंजली, राधिका व अन्य लोग वर्मा चैराहा पहुंच गये और लोडर को घेर लिया। कहासुनी के बीच वहां भीड़ जमा हो गयी। जानकारी मिलने पर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी तथा शव को अपने कब्जे में लेकर जिला चिकित्सालय की माच्र्युरी हाउस में रखवा दिया। वहीं पूछताछ हेतु पति को हिरासत में ले लिया। सदर अस्पताल के माच्र्युरी हाउस में मृतका की मां सुनीता ने बताया कि दहेज की मांग को लेकर आये दिन उसका पति उसे मारता-पीटता था और 22 दिसम्बर को करंट देकर मारने की कोशिश भी की थी। वहीं मृतका की सास फूलगेंदिया ने बताया कि उसके पुत्र पर लगाये जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। जब वह सुबह उठकर कपड़े धोने जा रही थी तभी वह करंट की चपेट में आ गयी थी। 

No comments