Latest News

स्टांप बिल्डरो की हडताल से अदालती काम प्रभावित

हमीरपुर, महेश अवस्थी । जिले के स्टाम्प विके्रताओं की हडताल के चलते अदालतो मे काम काज प्रभावित रहा। जमानत मंजूर होने के बाद, तमाम बंदी जिला करागार से बाहर नही आ सके। स्टांप बेंडरो ने कलेक्ट्रेट मे गोल चबूतरे में धरना दिया और बाद मंे मुख्यमंत्री को सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। जिसमें उन्होने कहा कि स्टांप विक्रेताअेां की जीविका पर उत्पन्न खतरें के कारण उन लोगो ने धरना दिया है। न्यायिक और गैर न्यायिक स्टांपो की निकासी स्टांप बेंडरो के चालान के द्वारा की जाती है जो दस रूपये से लेकर
एसडीएम को ज्ञापन देते स्टांप वेंडर
पाच हजार मूल्य वर्ग के स्टांप की प्रक्रिया को बहाल रखा जाये। स्टाक होल्डिंग कंपनी के द्वारा एसीसी स्टांप वेंडरो को बनाया जा रहा है उसका कमीशन बहुत कम है जिस कारण स्टांप वेंडर ई-स्टांपिंग प्रणाली मे अपनी जीविका चलाने मे असमर्थ है। इसलिए कमीशन बढाया जाये। कमीशन सरकार द्वारा तय किया जाये या फिर सरकारी तंत्र द्वारा स्टांप बिल्डरो के हित को ध्यान मे रखकर स्टाक होल्डिंग को आदेशित किया जाये। उत्तराखण्ड में ई-स्टांप प्रक्रिया स्टांप वेंडर ही चला रहे है जिसे यूपी मे लागू किया जाये। स्टाम्प वेंडर को मिलने वाले कमीशन सरकार द्वारा तय हो जाने के बाद उसमे किसी प्रकार का रद्दोबदल न किया जाये। स्टांप वेंडरो की हडताल 31 जनवरी तक चलेगी।

No comments