Latest News

अब हर सोमवार को ऐनिमिया पर वार

स्कूली बच्चों और स्कूल न जाने वाले बच्चों को दी जायेगी गोलियां

हमीरपुर, महेश अवस्थी । केन्द्र सरकार के ऐनिमिया मुक्त भारत अभियान के तहत मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ राज कुमार सचान ने कहा कि प्रत्येक सोमवार को स्कूल/कालेजों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में पंजीकृत बच्चों को आयरन की गोलियां दी जायेंगी। हालाकि यह कार्यक्रम पहले से चल रहा है, लेकिन अबकी बार इस अभियान को गति दी गई है। प्रत्येक शनिवार को स्कूली बच्चों को सोमवार को होने वाली गतिविधियों के बारे में बताया जायेगा फिर सोमवार की प्रार्थनासभा में बच्चों को ऐनिमिया के बारे में जारूगक किया जायेगा। दोपहर में एमडीएम खाने
के एक घण्टे बाद आयरन की गोली शिक्षक की मौजूदगी में साफ पानी के पानी के साथ दी जायेगी। दवा खाने के बाद बच्चों को आधा घण्टे तक खेलकूद जैसी गतिविध में व्यस्त रखा जायेगा और इस दौरान खून के कमी के होने वाले नुकसान के बारे में भी बताया जायेगा। स्कूल जाने वाले और न जाने वाले 19 वर्ष के बच्चों को ऐनिमिया से मुक्त करने के दवा दी जायेगी। इसके लिये प्रत्येक स्कूल में दो शिक्षकों को नोडल अधिकारी बनाया जोयगा। इस अभियान स्वास्थ्य विभाग के साथ बीएसए, डीआईओएस, डीपीआरओ और बाल विकास पुष्टाहार को भी शामिल किया गया है। अभियान की प्रतिमाह रिपोर्टिंग होगी और टीमें भी समय-समय पर निरीक्षण करती रहेंगी। उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं में ऐनिमिया के केस ज्यादा मिलते हैं। 50 फीसदी महिलायें इसकी शिकार होती हैं। इसलिये 15 जनवरी से इसके लिये विशेष अभियान शुरू होने जा रहा है। इसमें धर्मगुरूओं का भी सहारा लिया जायेगा।

No comments