Latest News

गंगा-जमुनी तहजीब की अनूठी मिशाल बाराहीं देवी मेला

जालौन (उरई), अजय मिश्रा । गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल श्रीबाराहीं देवी मेला एवं विकास प्रदर्शनी को राष्ट्रीय मेला बनाए जाने के लिए प्रयास किए जाएंगे। मेले जैसे आयोजन भारतीय संस्कृति व परंपरा को आगे ले जाने में सहायक ही सिद्ध होते हैं। इसलिए इस प्रकार के आयोजनों को होते रहना चाहिए। नगर पालिका परिषद की ओर से कराया जाने वाले श्रीबाराहीं देवी मेला ऐसे ही आयोजनों का एक हिस्सा है। यह बात श्रीबाराहीं देवी मेला एवं विकास प्रदर्शनी के उद्घाटन के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित सदर विधायक गौरी शंकर वर्मा ने उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए कही। 
बाराहीं देवी मेला शुभारंभ अवसर पर मंचासीन अतिथि।
नगर में प्रतिवर्ष श्रीबाराहीं देवी मेला एवं विकास प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है। नगर पालिका परिषद की ओर से कराए जाने वाले उक्त आयोजन में गंगा जमुनी तहजीब देखने को मिलती है। क्योंकि श्रीबाराहीं देवी मेला स्थल पर एक ओर प्राचीन श्रीबाराहीं देवी का मंदिर है तो वहीं उसी के सटी हुई एक मजार भी है। मेले में आने वाले लोग समान रूप से एक ओर श्रीबाराहीं देवी के दर्शन करते हैं तो वहीं मजार पर भी अकीदत के साथ सिर को झुकाते हैं। इस बार मेले को भव्य स्वरूप प्रदान करते हुए कई नए आकर्षण जोड़े गए हैं। इसी क्रम में बुधवार को सदर विधायक गौरी शंकर वर्मा एवं भाजपा जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह सेंगर बनाजी के मुख्य आतिथ्य एवं एसडीएम सुनील कुमार शुक्ला की उपस्थिति में मेले का फीता काटकर उद्घाटन किया गया। इसके उपरांत सभी अतिथियों ने श्रीबाराहीं देवी मंदिर पर पूजा अर्चना कर माथा टेका व पास ही स्थित मजार पर भी चादर चढ़ाई। इस दौरान विभिन्न विद्यालयों के छात्रों ने विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। सदर विधायक ने उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए कहा कि मेले जैसे आयोजन भारतीय संस्कृति व परंपरा को आगे ले जाने में सहायक ही सिद्ध होते हैं। इसलिए इस प्रकार के आयोजनों को होते रहना चाहिए। नगर पालिका परिषद की ओर से कराया जाने वाले श्रीबाराहीं देवी मेला ऐसे ही आयोजनों का एक हिस्सा है। उन्होंने श्रीबाराहीं देवी मेला को राष्ट्रीय मेला बनाए जाने के लिए प्रयास किए जाने का भी आश्वासन दिया। पालिकाध्यक्ष गिरीश कुमार गुप्ता एवं मेलाध्यक्ष मिथलेश भदौरिया ने आयोजन में आए लोगों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन धर्मेंद्र सिंह चैहान ने किया। इस मौके पर ई ओ डी डी सिंह, सफाई निरीक्षक देवेंद्र सिंह, जिला पंचायत सदस्या भानुवती वर्मा, सतेंद्र खत्री, मनुराज तिवारी, नितिन मित्तल, कैलाश बाबू वर्मा देवरी, राजीव माहेश्वरी, पुनीत मित्तल, जोया खान, सतीश सिंह सेंगर, सरबर अली, सोमिल याज्ञिक, नरसिंह यादव, विनय श्रीवास्तव, विजय वर्मा, रवि प्रताप, नफीस सिद्दीकी, भूरे यादव, सुरेंद्र कुशवाहा, खुशबू अग्रवाल, दिलीप चतुर्वेदी, इकबाल सिद्दीकी, गजेंद्र कुशवाहा, सुधा देवी, नीता देवी, राजेंद्र कुशवाहा, अनीता देवी, किरन देवी, खुशबू अग्रवाल, निशा खातून, श्रीमती राबिया, मेलाधिकारी चंदन सिंह यादव, मेला लिपिक कमलेश त्रिपाठी, अनिल कुशवाहा आदि लोग मौजूद रहे।

No comments