Latest News

ग्रामीण विकास में पशुपालन का विशेष महत्व: अवधेश कुमार

बिजनौर (संजय सक्सेना)  ग्रामीण विकास में पशुपालन का विशेष योगदान है पशुओं के बिना खेती कार्य होना संभव नहीं है इसलिए हम सबको पशुओं की समुचित देखभाल करनी चाहिए तथा सरकार द्वारा पशु पालन विभाग के माध्यम से दी जा रही सुविधाओं का हम सब पशुपालकों को अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहिए. सरकार की मंशा है की 2022 तक किसान की आय दुगनी हो इसके लिए पशुपालन विभाग नई नई तकनीकी एवं जानकारी किसानों को उपलब्ध करा रहा है जिससे कि किसान दुग्ध उत्पादन में वृद्धि कर सकें. यह उद्गार ब्लाक प्रमुख नजीबाबाद अवधेश कुमार सिंह ने किसान सहकारी समिति परिसर मुस्सेपुर में आयोजित पंडित


दीनदयाल उपाध्याय पशु आरोग्य शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में कहे. उन्होंने सभी पशुपालक किसान भाइयों से अधिक से अधिक सरकारी योजनाओं का लाभ लेने की अपील की. अपने संबोधन में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता चौधरी ईशम सिंह ने कहा कि स्वस्थ पशु से ही किसान की समृद्धि का आधार है. बिना पशुओं के खेती एवं मानव जीवन की परिकल्पना नहीं की जा सकती है. उन्होंने कहा कि वर्तमान भारतीय जनता पार्टी की सरकार गांव-गांव शिविर लगाकर पशुपालन विभाग के माध्यम से पशुओं का टीकाकरण व समुचित जाच आदि


करने का कार्य कर रही है, जिसका लाभ हम सब किसान भाइयों को उठाना चाहिए. भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय मंत्री पिछड़ा मोर्चा बिंदु सर्राफ ने कहा कि सरकार का विशेष ध्यान गोपालन पर है. इसके लिए हम सबको वैज्ञानिक ढंग से पशु पालन करना चाहिए क्योंकि आज भी हमारे पशुपालक भाई परंपरागत ढंग से पशु पालन कर रहे हैं जिससे हम आशातीत परिणाम प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं. ग्रामीण किसानों पशुपालकों को संबोधित करते हुए पशुपालन विभाग के उप जिला मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार ने पशुपालकों से कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निशुल्क टीकाकरण कार्यक्रम, कृतिम गर्भाधान कार्यक्रम चल रहा है पशुओं की निशुल्क जांच की जा रही है जिससे पशुओं में होने वाली बीमारियों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है और यह जानकारी प्राप्त करने के बाद ही पशुओं को समुचित इलाज निकटतम पशु चिकित्सालय में निशुल्क दिया जा

रहा है. उन्होंने कहा कि सभी को पशुओं का टीकाकरण कराना चाहिए कृतिम गर्भाधान जो उन्नत प्रकार की नस्लों के लिए किया जा रहा है कराना चाहिए. साथ ही उन्होंने आह्वान किया कि पशुओं की पशुशाला  में  साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए साथ ही बरसात के मौसम में पशुशाला में बनी चर की नियमित सफाई करना नितांत आवश्यक है. उन्होंने किसान भाइयों से कहा कि गाय भैंस का दूध निकालते समय तेज गर्म पानी का प्रयोग ना करें उससे थनैला बीमारी होती है भागूवाला के प्रभारी पशु चिकित्सा अधिकारी डा कर्मवीर राज सिंह ने कहा कि हम पशुओं को  का चिन्हीकरण उनके कान में टेग लगाकर कर रहे हैं यह प्रत्येक किसान को करा लेना चाहिए ताकि उनके पशु की  एक पहचान  बनाई जा सके इस समय में बड़ी संख्या में किसान भाइयों ने अपने 260 पशुओं की जांच तथा 200 पशुओं का टीकाकरण कराया गया साथ ही उनको नि:शुल्क पेट में कीड़ों की दवाई आदि दी गई. कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्राम प्रधान डॉ अजयवीर सिंह तथा संचालन चौधरी ईशम सिंह ने किया. कार्यक्रम में मुख्य रूप से युवा मोर्चा के अध्यक्ष संजीव गुर्जर, मंडल उपाध्यक्ष अतुल राजपूत, पूर्व मंडल अध्यक्ष युवा मोर्चा राजेंद्र सिंह, आई टी विभाग बिजनौर के जिला कार्यकारिणी सदस्य अवनीश जोशी, क्षेत्रीय मंत्री बिंदु सर्राफ, चौधरी ईशम सिंह, कपिल राजपूत, मयंक चौहान, पशुपालन विभाग की टीम में जितेंद्र सिंह, पवन कुमार ,श्याम सिंह, बनवारीलाल ,नितिन कुमार, सुरेश कुमार, प्रवीण कुमार, सुनील कुमार, सुधीर कुमार, नीतू ,बलवीर सिंह तथा ग्रामीणों में मुख्य रूप से अमीचंद, जगपाल सिंह, लल्लू सिंह, चंद्रपाल सिंह, चमन सिंह, धीर सिंह, अतुल कुमार, मोहम्मद यूसुफ, महिपाल सिंह, भीम सिंह, राहुल कुमार, पवन कुमार, मोहित कुमार, महिपाल सिंह,  कल्याण सिंह, हुकम सिंह,  विकास राठी, टीकम सिंह आदि पशुपालक उपस्थित रहे.

No comments