अन्ना जानवरों से फसल बचाने को ग्रामीण परेशान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, January 16, 2020

अन्ना जानवरों से फसल बचाने को ग्रामीण परेशान

जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर बुलन्द की आवाज
आगामी 20 जनवरी से स्कूलों में अन्ना जानवर बंद करने की चेतावनी

बांदा, कृपाशंकर दुबे । अन्ना जानवरों के आतंक से ग्रामीणों व किसानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। रात दिन खेतों की रखवाली करने के बाद भी अन्ना जानवरों द्वारा फसल को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। ग्रामीणों ने गुरूवार को जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर गांव में गौशाला का निर्माण कराकर अन्ना जानवरों को
कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते तिंदवारा गांव के ग्रामीण
संरक्षित किये जाने की मांग की है। जिससे किसानों की फसलों को बचाया जा सके। वहीं ग्रामीणों ने कार्यवाही न होने की दशा में आगामी 20 जनवरी से गांव के स्कूलों में अन्ना जानवरों को बंद करने की चेतावनी दी है।
डीएम को दिये गये ज्ञापन में तिन्दवारा गांव के ग्रामीणों ने बताया कि यहां के किसान पूर्ण रूप से कृषि पर निर्भर है। बीते 7 जनवरी का तहसील दिवस में प्रार्थना पत्र देकर तथा 9 जनवरी को जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर अपनी पीड़ा बताई गई थी। जिस पर जिलाधिकारी ने किसानों को कार्यवाही का आश्वासन दिया था। लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नही हुई है। ग्रामीणों ने बताया कि आवारा जानवरों की वजह से सभी किसानों की फसले बर्बाद हो रही है। सारी रात व दिन में खेतों की रखवाली करने के बाद भी अन्ना जानवरों द्वारा फसलों को बर्बाद किया जा रहा है। किसान अपनी फसलों को बचाने में असफल साबित हो रहा है। जिससे आने वाले समय में परिवार को भुखमरी का संकट झेलना पड़ सकता है। सामाजिक कार्यकर्ता दिवाकर मिश्र के नेतृत्व में तिन्दवारा गांव के सैकडों किसानों ने जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करते हुये जिलाधिकारी को पत्र देकर मांग की है कि जल्द से जल्द गांव के किसानों की समस्या को समझते हुये उसका निस्तारण किया जाये। अन्यथा की स्थिति में आगामी 20 जनवरी से गाव के किसान गांव के स्कूलों में अन्ना जानवरों को बंद करेंगे। जिसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। इस दौरान गांव के नन्दकिशार, सन्तू, बिटुलिया, सियादुलारी, लल्लूराम, रामफल, रामदुलारी, माया, कल्लू, रामऔतार, चांद खां, कदीरा, देवीदीन, ब्रजलाल, परागी, कौशलकिशोर, संतोष कुमार, परदेशी, राकेश कुमार, रामकिशुन सहित अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages