Latest News

अधेड़ को रौंदकर खंती में गिरी टवेरा, हाइवे जाम

टायर बस्र्ट हो जाने से अनियंत्रित होकर खंती में कूदी टवेरा 

कमासिन, कृपाशंकर दुबे । बबेरू की ओर से तेज रफ्तार से आ रही टवेरा गाड़ी का अगला टायर बस्र्ट हो जाने से अनियंत्रित वाहन सड़क किनारे शौच कर रहे अधेड़ को रौंदते हुए खंती में कूद गई। अधेड़ की मौके पर ही मौत हो गई। टवेरा में सवार तीन लोगों को गंभीर चोट आई है। उन्हें बबेरू सीएचसी ले जाया गया घटना को लेकर लोगों ने हाईवे में जाम लगा दिया। बमुश्किल पुलिस के समझाने पर जाम खुल सका। 
घटना शनिवार की सुबह लगभग आठ की है। एक टवेरा गाड़ी बबेरू की ओर से तेजगति से कमासिन की ओर
दुर्घटनाग्रस्त टवेरा कार
आ रही थी, तभी खरौली गांव के ज्ञान सिंह के ट्यूबवेल के पास गाड़ी का अगला टायर अचानक फट जाने से गाड़ी अनियंत्रित होकर गहरे खड्ड में जा गिरी। वहीं सड़क किनारे शौच कर रहे जुग्गीलाल पुत्र कालीचरण (45) को कुचलते हुए ऊपर से निकल गई। जुग्गीलाल की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। दुर्घटना की सूचना पाकर गांव वाले घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े। आनन फानन घायल जुग्गीलाल को पीएचसी लाया गया, वहां डाक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। परिवारी जनों को मुआवजे दिलाने की मांग को लेकर गांव वालों ने स्टेट हाईवे पर जाम लगा दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसओ कमासिन ताराचंद पटेल ने गांव वालों को काफी समझाने बुझाने का प्रयास किया। गांव वालों के मनाने में असफल थानाध्यक्ष ने सीओ बबेरू को सूचना दी। सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंचे सीओ राजीव प्रताप सिंह ने समझा-बुझाकर किसी तरह से जाम हटवाया। मृतक की पत्नी देवमुनि की मौत बीमारी के चलते 8 माह पूर्व हो चुकी है। मृतक जुग्गीलाल तीन भाइयों के बीच मंझला भाई था। जुग्गी लाल अपने पीछे शैलेंद्र 12 गोलू 10 वर्ष रानी 3 वर्ष छोड़ गया। मृतक के छोटे भाई अमरजीत का कहना है की जुग्गीलाल मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का पालन पोषण करता था उसके पास 2 बीघा पट्टे की जमीन है। मृतक की माता लक्ष्मीनिया का रो-रो कर बुरा हाल है। वह रह रह कर बार-बार बेहोश हो जाती है। घटना को लेकर परिवार के लोगों में कोहराम मचा है। सीओ राजीव प्रताप सिंह ने बताया कि जुग्गीलाल के परिवारीजनों को कानूनी कार्रवाई करते हुए आर्थिक सहायता दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

No comments