Latest News

मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला, दो फरवरी से हर रविवार

बिजनौर (संजय सक्सेना) रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए लोगों को जागरूक कर बेहतर उपचार प्रारम्भिक अवस्था  में दिलाने के उद्देश्य से जिले में मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ  मेला का आयोजन किया जायेगा. मेलों का आयोजन दो फरवरी से अनवरत जिले के समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर किया जायेगा |

  मुख्य चिकित्साधिकारी डा. विजय कुमार यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि मेले का आयोजन चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, चिकित्सा शिक्षा, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग तथा आयुष विभाग द्वारा संयुक्त रूप से किया जायेगा | मेले के क्रियाकलाप, अनुश्रवण एवं रिपोर्टिंग का दायित्व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग का होगा, विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित करने के उद्देश्य से कार्यक्रम का नोडल एसीएमओ डा. रोहिताश कुमार को बनाया गया है | दो फरवरी से अनवरत प्रत्येक रविवार को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की तैयारी पूरी कर ली गयी है| कार्यक्रम में शामिल विभाग को स्पष्ट कर दिया गया है कि कार्यक्रम में किसी तरह की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी |

 उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले में उच्च रक्तचाप, मधुमेह, मुख, स्तन एवं सर्वाइकल कैंसर की स्क्रीनिंग एवं संदर्भीकरण सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी. प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान की जानकारी तथा पात्र लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए जाएंगे, साथ ही गर्भावस्था एवं प्रसव कालीन, संस्थागत प्रसव संबंधी जागरूकता एवं जन्म पंजीकरण परामर्श के साथ साथ नवजात एवं शिशु स्वास्थ्य सुरक्षा, पूर्ण टीकाकरण, परिवार नियोजन के संबंध में परामर्श एवं सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जायेगी | इसके अलावा मेले में तंबाकू सेवन को रोकने के लिए जागरुकता तथा समस्त आधारभूत जांच सुविधाएं, पोषण अभियान का प्रचार-प्रसार तथा कुपोषित बच्चों का चिन्हिकरण एवं उनके उपचार हेतु समुचित कार्यवाही की जाएगी| बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया की रोकथाम के बचाव की जानकारी दी जाएगी |
जिला मलेरिया अधिकारी बृजभूषण ने बताया आरोग्य मेले में आने वाले व्यक्तियों को संक्रामक रोग यथा मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, दिमागी बुखार, कालाजार, स्वाइन फ्लू एवं फाइलेरिया रोग से पीड़ित होने की स्थिति में रोगियों का परीक्षण, निदान एवं उपचार किया जाएगा| संक्रामक रोगों के संबंध में जन समुदाय को पूर्व में प्रेषित कार्य योजनाओं में वर्णित दिशानिर्देशों के अनुसार संवेदी करण किया जाएगा, जन समुदाय को हाथ धोने, घर के आस-पास स्वच्छ वातावरण बनाए रखने, खांसते एवं छींकते समय दूसरे व्यक्ति को संक्रमित होने से बचाव के उपाय तथा मच्छरों, चूहों एवं जानवरों से फैलने वाले रोगों के संबंध में बचाव एवं रोकथाम के संबंध में स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान की जायेगी | रोगियों का पूर्ण उपचार किया जाएगा| मेले में संक्रामक रोगों से संबंधित प्रचार प्रसार की सामग्री का व्यापक रूप से प्रदर्शन भी किया जाएगा|

No comments