Latest News

जहानाबाद को आदर्श विधानसभा के रूप में करेंगे विकसित- जैकी

दो आईटीआई व डिग्री कालेज की मिलेगी सौगात
19 मार्च को तीन वर्ष पूरे होने पर जारी करेंगे रिपोर्ट कार्ड

फतेहपुर, शमशाद खान । जहानाबाद को आदर्श विधानसभा के रूप में विकसित करने के लिये क्षेत्र का समुचित विकास कार्यों को कराये जाने के साथ ही पर्यटन के रूप में विकसित करने के लिये पौराणिक मन्दिरों का जीर्णोद्धार कराया जा रहा है। साथ ही क्षेत्र की सड़कों को दुरुस्त कर नई सड़के बनवाई जायेंगी। उक्त बातें पीडब्लूडी डाक बंगले में जहानाबाद विधानसभा के विधायक एवं प्रदेश सरकार के कारागार राज्यमंत्री जय कुमार जैकी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कही। 
उन्होंने बताया कि जहानाबाद विधानसभा के समुचित विकास के लिये उन्होंने मंत्री पद धारण करने के पश्चात कई विकास कार्य किये। उन्होंने बताया कि कस्बे के बाजारांे की सड़कों को अतिक्रमण से मुक्त कर नई सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। जबकि क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिये मन्दिरो के जीर्णोद्धार का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने मंदिरों की भूमि पर अवैध कब्जों व अतिक्रमण पर चिंता जाहिर करते हुए शीघ्र ही अवैध कब्जों को मुक्त कराने व मन्दिरों की भूमि की आय को डकारने वालो पर कार्रवाई की बात कही। साथ ही बताया कि क्षेत्र के युवाओं के लिये विधानसभा के क्षेत्र में दो आईटीआई का निर्माण चल रहा है। एक डिग्री कालेज की शीघ्र शुरुआत की जायेगी। उन्होंने गांव से निकलने वाली प्रतिभा को पुलिस एवं सेना
पत्रकारों से बातचीत करते कारागार राज्यमंत्री जय कुमार जैकी।
भर्ती के लिये ग्रामसभा के अंर्तगत खेल मैदान के विकास की योजना शीघ्र अमल में लाने की बात कही। साथ ही गांव में ही ऑक्सीजन बैंक के रूप में पार्को में वृक्षारोपण कर विकसित करने की योजना बताई। उन्होंने बताया कि 19 मार्च को तीन वर्ष के कार्यकाल को पूरा होने की अवधि में जनता के बीच तीन वर्षों में किये गए कार्यो का रिपोर्ट कार्ड सामने लाएंगे। वही प्रदेश सरकार की योजनाओं को अपने विधानसभा क्षेत्र में हुए कार्यों की सत्यता परखने के लिये वह 2 से 18 मार्च तक गांव-गांव भ्रमण करगें और गरीबों, किसानों, मजदूरों के लिये चलाई जाने वाली योजनाओ की वास्तविकता को परखने का कार्य करेंगे। साथ ही बकाया दो वर्षों के विकास कार्यो की रूप रेखा को भी तय करेंगे। उन्होंने अपने मंत्रालय के कार्यों का बखान करते हुए बताया कि प्रदेश की जेलों में बंद गुंडे, माफियाओं को उनके कार्यक्षेत्र के बाहर के जनपदों में भेजा गया। साथ ही जेल की सुरक्षा के लिये चारदीवारी, मेटल डिटेक्टर, सीसी कैमरों को लगाया गया। वहीं लखनऊ स्थित मुख्यालय से 82 जेलों को जोड़ा गया है। जेल में विभिन्न अपराधों में निरुद्ध बंदियों को कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर जेल से बाहर आने के बाद उन्हें मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया जायेगा। उन्होंने जनपदवासियों को नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए जनपद के विकास में भागेदारी की अपील की। इस मौके पर राकेश वर्मा एडवोकेट मधुराज विश्वकर्मा, डा0 संदीप उत्तम आदि मौजूद रहे।

No comments