Latest News

हड़ताल पर रहे कर्मी, बैंकों में लटकते रहे ताले

करोड़ों रुपयों का लेन-देन रहा ठप, भटकते रहे ग्राहक 
मांगों को लेकर बैंक कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । शुक्रवार को दो दिवसीय हड़ताल के पहले दिन बैंकों में ताले लटकते रहे। बैंकों के बाहर मौजूद बैंक अधिकारी और कर्मचारियों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्राइवेट हाथों में बैकिंग व्यवस्था को दिए जाने का विरोध जताया। कहा कि सरकार जनता की गाढ़ी कमाई को बर्बाद करने का काम कर रही हैं। शहर के सभी बैंकों में ताले लटकते रहे, जिन लोगों को जानकारी नहीं थी, वह बैंकों के इर्द-गिर्द चक्क काटते नजर आए। हड़ताल से पहले दिन करोड़ों रुपए का लेन-देन प्रभावित हुआ। 
बैंक के बाहर प्रदर्शन करते बैंक कर्मचारी
यूएफबीओ यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस एआईबीईए आईसीसी एनसीबीई एआईबीए बीपीएफ आईएनबीईएफ आईएनबीओसी एनओबीडब्लू एनओबीओ के आह्वान पर नगर में संचालित सभी बैंकों में शुक्रवार को ताले लटकते रहे। हड़ताल के पहले दिन जानकारी न होने के कारण तमाम ग्राहक बैंकों के इर्द-गिर्द भटकते नजर आए। एसबीआई मुख्य शाखा व कृषि विकास शाखा पंजाब नेशनल बैंक बैंक आफ बड़ौदा इलाहाबाद बैंक के दर्जनों कर्मचारियों ने गुरुवार को हांथ में काली पट्टी बांध कर काम किया और शाम को एसबीआई मुख्य शाखा के बाहर एकत्र होकर सभी ने विरोध प्रदर्शन किया। कर्मियों ने कहा कि बैंकों के कुल एनपीए का 92 प्रतिशत कारपोरेट जगत की हस्तियों के यहां रूका हुआ है।बैंक के मैनेजमेंट के दबाव में बैंकों की पूंजी डूब रही है। प्राइवेटाइजेशन करके सरकार जनता की गाढी कमाई को बर्बाद कर देना चाहती है। बैंक कर्मचारियों ने शुक्रवार व शनिवार 2 दिन हड़ताल में रहने औरकाम ना करने का एलान किया है। प्रदर्शन के दौरान पंजाब नेशनल बैंक से प्रहलाद दीक्षित सुनील प्रताप सिंह प्रदीप रावत लवलेश हरि सिंह इलाहाबाद बैंक के कुमार रंजीत आशीष कुमार शंभू दयाल बृजेश त्रिपाठी राज कमल वर्मा ओम कुमार भारतीय स्टेट बैंक के मनीष चैधरी प्रभात कुमार अरविंद कुमार राजेंद्र सिंह धीरेंद्र सिंह प्रणय शुक्ला रोशन मिश्रा शारदा प्रसाद आदि लोग शामिल रहे। इधर, चित्रकूटधाम मंडल मुख्यालय में स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, इलाहाबाद बैंक, इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंकों के अलावा अन्य बैंकों में भी ताले लटकते रहे। बैंकों में हड़ताल होने के कारण करोड़ों का कामकाज प्रभावित रहा।

No comments