Latest News

किसानों ने कमसेरा चौराहे पर गौवंशों के साथ लगाया जाम

एसडीएम, सीओ ने मौके पर पहुंच कर खुलवाया जाम

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । रेढ़र थाना क्षेत्र के ग्राम कमसेरा चैराहे पर गुरुवार की सुबह 9 बजे क्षेत्र के किसानों ने 250 से भी ज्यादा गौवंशों को लाकर चैराहे पर जाम लगा दिया। जिससे जालौन बंगरा मार्ग बंद हो गया। किसानों का आरोप था कि अमखेड़ा गौशाला से रात्रि में गाय बछड़ों को छोड़ दिया जाता है जिससे मवेशी किसानों की फसल को खाकर नुकसान करते हैं। सर्दी अधिक होने के बावजूद हम किसान आधी रात तक खेतों की फसल को अन्ना मवेशियों से बचाते हैं। कई बार कहने पर भी गौशाला के लोगों ने अपना रवैया नहीं बदला। गुरुवार को ग्राम रूरा, अमखेडा, कमसेरा, परधानी के किसानों ने क्षेत्र से सभी मवेशियों को हाककर कमसेरा चैराहे पर एकत्र कर जाम लगा दिया।  जालौन बंगरा मार्ग बंद हो गया माधौगढ, रेढर, भिंड, लहार के यात्रियों को काफी इंतजार करना पड़ा।
आबारा पशुओं के साथ कमसेरा चैराहे पर जाम लगाये किसान।
जाम की सूचना पर थाना प्रभारी रेढ़र इमरान खान पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। एसडीएम माधौगढ सालिकराम तथा सीओ राहुल पांडेय ने मौके पर पहुंच कर किसानों की समस्या को समझने के बाद 50 मवेशियों की जिम्मेदारी रूरा प्रधान प्रतिनिधि दीपक सिंह को दी तथा शेष मवेशियों को अमखेड़ा गौशाला में भेजा गया। तब कहीं 4 घंटे की मशक्कत के बाद जाम खुलवाया गया। इस दौरान भगवान सिंह, धनलाल प्रजापति, राकेश तिवारी, कढ़ोरे द्विवेदी, राघवेंद्र भदौरिया, रमाकांत उदैनिया, प्रदीप सिंह, मानसिंह यादव गणेश प्रसाद कुशवाहा, अखिलेश द्विवेदी बड़ी संख्या में क्षेत्रीय किसान मौजूद रहे।

No comments