Latest News

जांच में क्लीन चिट मिलने के बाद पुनः जांच की गयी

चुनावी रंजिश के चलते प्रधान के कार्यों की हो रही शिकायतें

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । ग्राम पंचायत रुदावली इटौरा में ग्राम प्रधान लीलावती द्वारा पूर्व के वर्ष में इंटरलाकिंग का निर्माण कार्य कराया गया था। लेकिन गांव के कुछ लोगों द्वारा उसकी शिकायती करने पर वर्ष 2017 में उसकी जांच अनिल कुमार पांडेय द्वारा की गयी थी जिसमें उन्होंने की गयी शिकायतों को निर्मूल बताते हुये एक तरह से ग्राम प्रधान को क्लीन चिट दे दी गयी थी। अब पुनः शिकायत होने के बाद उन्हीं कार्यों की पुनः जांच किसी के गले नहीं उतर रही है।

नवनिर्मित इंटरलाकिंग की नापजोख करते अधिकारी।
उल्लेखनीय हो कि उस दौरान ग्रामीणों की शिकायत पर गांव पहुंचे जांच अधिकारी अनिल पांडय ने इंटरलाकिंग, कुओं की सफाई, शौचालय सहित सभी शिकायती बिंदुओं की स्थलीय जांच की तो उसमें कुछ भी ऐसा नहीं मिला जिससे कि कराये गये कार्यों में कोई भी उंगली उठा सके। लेकिन ग्राम में व्याप्त चुनावी रंजिश की वजह से शिकायतकर्ता महेशचंद्र पाठक, कृष्णअवतार ने पुनः उन्हीं बिंदुओं की शिकायत की तो जगत सिंह, उमराव सिंह यादव एई, सचिव अरुण, आरके तिवारी आदि ने छोटी मामा मंदिर पर बैठकर सभी ग्रामीणों की शिकायतों को गंभीरता से सुना तो इस बीच गांव के ग्रामीणों के बीच तनातनी की स्थिति बन गयी। इस पर आरके तिवारी ने कहा कि अपनी बात कहने का सभी को अधिकार है। तो कुछ ग्रामीणों ने पूर्व प्रधान के कार्यकाल के कार्यों की शिकायत की जिसे एई ने मानने से इंकार करते हुये कहा कि हम सभी यहां ग्राम प्रधान लीलावती के कार्यों की जांच करने आये है। इसके बाद उन्होंने इंटरलाकिंग को उखड़वाकर देखा और यह कहकर गांव से चले गये वह अपनी आख्या अधिकारियों को दे देंगे।


No comments