‘अंतरा’ लगवाने वाली महिलाएं सुलझाएं अपनी शंकाएं केयरलाईन से - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, January 29, 2020

‘अंतरा’ लगवाने वाली महिलाएं सुलझाएं अपनी शंकाएं केयरलाईन से

अंतरा केयरलाईन 1800-103-3044

बिजनौर (संजय सक्सेना) अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए एक सुरक्षित अस्थायी गर्भनिरोधक विकल्पों में से एक है | तीन माह (त्रैमासिक) के अंतराल में लगने वाला यह इंजेक्शन एक बार लगवाने पर तीन माह तक अनचाहे गर्भ से छुटकारा देता है.  महिलाओं के प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए अंतरा गर्भ निरोधक इंजेक्शन की शुरुआत की गयी। महिलाओं ने इसे विकल्प के तौर पर चुना तो है पर किसी भी तरह की समस्या होने पर सलाह लेने के लिए अभी भी महिलाएं बात करने से कतरा रही हैं, जबकि उनकी हर तरह की शंकाओं के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अंतरा केयरलाईन की शुरुआत की है |
सीएमओ डॉ. विजय कुमार यादव ने बताया “अंतरा केयरलाईन 1800-103-3044 के जरिए महिलाएं इससे आसानी से जुड़ सकती हैं | अंतरा लगवाने वाली महिलाओं के मन में कई तरह के सवाल होते हैं जिसे वह किसी से भी पूछने पर हिचकिचाती है | ऐसे में इस टोल फ्री नम्बर से वह बड़ी ही आसानी से अपने हर सवालों के जवाब घर बैठे ही ले सकती हैं. टोल फ्री नंबर डायल करने पर अंतरा से जुड़ी हर समस्या की उचित सलाह परामर्शदाता से मिल जाती है” |

उन्होंने बताया कि वर्तमान में जिले में 5188 के सापेक्ष 1954 महिलाओ ने अंतरा को अपनाया है, जिले में पुरुष नसबंदी 67 के सापेक्ष 12 हुई है जबकि महिला नसबंदी 2568 के मुकाबले 1690 हुई है |

ऐसे जुड़ें केयर लाइन से – अंतरा केयर लाईन के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया -

अंतरा का पहला इंजेक्शन लगवाते ही लाभार्थी महिला को इस नम्बर पर (1800 103 3044) कॉल कर अपना नाम रजिस्टर्ड करवाना है, ताकि उन्हें उसके बाद समय पर इन्जेक्शन सम्बन्धी परामर्श की सुविधा मिलती रहे। 
रजिस्टर्ड होने के बाद महिला को केयर लाइन से अगले इंजेक्शन की तारीख भी याद दिलायी जाती है।
टोलफ्री नंबर पर दी गई सभी सूचनाएं गोपनीय रखी जाती है |

टोलफ्री नम्बर की सुविधा सुबह 8 से रात 9 बजे तक उपलब्ध है।

 ‘अंतरा’ महिलाओं के लिए सुरक्षित विकल्प-

अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए एक सुरक्षित अस्थायी गर्भनिरोधक विकल्पों में से एक हैं | तीन माह (त्रैमासिक) के अंतराल में लगने वाला यह इंजेक्शन एक बार लगवाने पर तीन माह तक अनचाहे गर्भ से छुटकारा देता हैं |अंतरा इंजेक्शन जिला महिला चिकित्सालयों, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों व उप-केन्द्रों पर लगाया जाता है और यह पूरी तरह से नि:शुल्क है |
पहली डोज़ लेने पर इन बातों का रखें ख्याल -

उचित स्क्रीनिंग हो जाने पर गर्भनिरोधक इंजेक्शन को किसी भी समय चुना जा सकता है पर पहली डोज़ लेने पर इन बातों का ख्याल रखना चाहिए | 

·         नियमित मासिक धर्म के बाद कभी भी
·         प्रसव के 6 सप्ताह के बाद
 ·         गर्भपात के तुरंत बाद

इंजेक्शन लगाने के बाद इन बातों को न करें नज़रंदाज़-

·         जहाँ इंजेक्शन लगा वो उस जगह मालिश न करें

·         इंजेक्शन की जगह पर गर्म सिंकाई न करें

·         इंजेक्शन लगने के बाद 5-10 मिनट के लिए अस्पताल में ही रुके

इन मिथकों पर न दें ध्यान –

·         इसके इस्तेमाल से बांझपन का खतरा रहता है |

·         ब्लड प्रेशर में परिवर्तन होने का खतरा रहता है |

·         इससे स्तन, गर्भाशय, लीवर कैंसर का खतरा रहता है |

·         फ्रैक्चर का खतरा बना रहता है.

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages