Latest News

श्री नागा निरंकारी में शुरू होगा कर्मकाण्ड एवं संस्कृत संभाषण प्रशिक्षण- गर्ग

पौरोहित्य कर्म एवं संस्कृत संभाषण का पाठ्यक्रम में जनपद का चयन बड़ी उपलब्धि

फतेहपुर, शमशाद खान । प्रदेश सरकार की पहल पर जनपद के लोगो को धार्मिक कर्मकांड एव संस्कृत सम्भाषण सीखने का सुनहरा अवसर उपलब्ध हो सका है। शहर के श्री नारायण नागा निरंकारी आदर्श संस्कृत महाविद्यालय में त्रैमासिक पौरोहित्य कर्मकांड के प्रशिक्षण देने के लिये शासन द्वारा अधिकृत किया गया है। 
उक्त बाते श्री नारायण नागा निरंकारी आदर्श संस्कृत महाविद्यालय के प्रबन्धक एव जनपद संयोजक प्रदीप गर्ग ने 
पत्रकारों से बातचीत करते महाविद्यालय के प्रबन्धक प्रदीप गर्ग।
पत्रकारों से रूबरू होते हुए कही। कलक्टरगंज स्थित आवास में पत्रकारों बातचीत करते हुए प्रबन्धक एव जनपद संयोजक प्रदीप गर्ग ने बताया कि उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान के तत्वाधान त्रैमासिक पौरोहित्य कर्म एवं संस्कृत सम्भाषण के प्रशिक्षण चार जनवरी से प्रारम्भ किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मण्डल आयोजक डॉ सलिक राम त्रिपाठी, पौरोहित्य कर्म प्रशिक्षक सिद्धार्थ द्विवेदी व संस्कृत भाषा सम्भाषण प्रशिक्षक सतीश कुमार अग्निहोत्री द्वारा इच्छुक लोगों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। उन्होंने कर्मकाण्ड एवं संस्कृत सीखने के इच्छुक युवाओ से प्रवेश लेने का आह्वान करते हुए जनपद के लिये प्रशिक्षण के शुरू किए जाने को बड़ी उपलब्धि बताया। साथ ही कहा कि कर्मकाण्ड एव संस्कृत सम्भाषण सीखने से युवा अपनी प्रतिभा को उजागर कर सकेंगे। समाज के उत्थान में अपना योगदान समर्पित कर सकेंगे। प्रशिक्षण के उपरांत प्रमाण पत्र दिया जायेगा जो कि धर्म शिक्षक आदि पदों की नियुक्तियों में सरकारी व गैर सरकारी क्षेत्रो में मान्य होगा।

No comments