Latest News

सूर्य की मेहरबानी से ठण्ड हुई कम, आग के सहारे कटी शाम

फतेहपुर, शमशाद खान । पिछले एक पखवारे से पड़ रही भीषण ठण्ड आज नये साल के पहले दिन सूर्य की मेहनबानी से कुछ कम हो गयी। दोपहर एक बजे सूर्य देव ने दर्शन दिये तो लोगों ने राहत की सांस महसूस की। पूरा दिन धूप खिली रही लेकिन शाम के चार बजते ही एक बार फिर बर्फीली हवाएं चलने लगी। जिससे शाम का वक्त लोगों का आग के सहारे बीता। सुबह कोहरे के कारण ट्रेने भी काफी देर से गन्तव्य तक पहुंची। यात्रियों को ठण्ड में ट्रेनों का इंतजार करना पड़ा। 
ठण्ड से बचने के लिए मुंह ढके युवतियां।
ठण्ड के चलते बाजारों की रौनक पूरी तरह से गायब है। सुबह देर से मार्केट खुलती है और शाम ढलते ही बाजार की रौनक खत्म हो जाती है। शहर के चैक एवं लालाबाजार में महिलाएं खरीदारी के लिये कम निकल रही है। जिसके कारण बाजार काफी खाली-खाली दिखाई देता है। वहीं लालाबाजार स्थित विदेशी कपड़ों की बिक्री जोरों पर है। लोग बंगलादेशी कपड़ों को सस्ते दामों में खरीदकर ठिठुरन को मिटा रहे है। खरीदारों को भीड़ के आगे खुलने वाली गंठें तुरन्त बिक जाती है। जिसको जो मिला वह लेकर अपनी ठंड को मिटाने का इंतेजाम करता है। रात्रि को कोहरे के चलते राष्ट्रीय राज्यमार्ग की रफ्तार में लगाम लगी है। ट्रक एवं बस चालक अपने गन्तब्य तक पहुंचने के लिये फाग लाइट के इस्तेमाल के साथ स्पीड में कमी बरत रहे है। जिससे कि वह सुरक्षित अपने स्थान तक पहुंच सकें। बड़े मजे की बात तो यह है कि हाईवे पर फर्राटे से दौड़ने वाले दो पहिया वाहन भी दुबक गये है। मोटर साइकिल, स्कूटरों से लोग सफर करने में कतरा रहे है। सर्दी के चलते विद्युत सामाग्री बेचने वाले दुकानदारों की बन आयी है। वहीं कोयले सहित लकड़ी की बिक्री जोरों पर है। हीटर की बिक्री खूब हो रही है। सोडियम हीटर इन दिनों लोगों की पसंद बने हुए है। लकड़ी और कोयले से तापने को लेकर उनके दामों में भी भारी उछाल आ गया है। 

No comments