एनडीआरएफ की टीम ने आपदा प्रबन्धन के प्रति किया जागरूक - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, January 10, 2020

एनडीआरएफ की टीम ने आपदा प्रबन्धन के प्रति किया जागरूक

अभ्यास सत्र के दूसरे दिन रेस्क्यू टीमों ने लिया हिस्सा 

फतेहपुर, शमशाद खान । बाढ़, अग्निकाण्ड, भूकम्प जैसे आपदा प्रबन्धन में स्वयं के साथ-साथ दूसरों की सहायता करने के उद्देश्य से चलाये जा रहे जागरूकता अभियान के दूसरे दिन 11 वीं वाहिनी एनडीआरएफ व जिला प्रशासन की टीम द्वारा सदर अस्पताल में माॅक एक्सरसाइज का आयोजन किया गया। जिसमें बकायदा उपस्थित लोगों के बीच प्रैक्टिकल करके दिखाया गया। इतना ही नहीं अस्पताल के बाहर मरीजों की सहायता हेतु मेडिकल पोस्ट व राहत शिविर का भी बंदोबस्त करके दिखाया। 
अग्निकाण्ड में फंसे मरीज को स्ट्रेचर पर लाती रेस्क्यू टीम।
अभ्यास सत्र के दूसरे दिन मुख्य अतिथि के रूप मंे जिलाधिकारी संजीव सिंह ने शिरकत की। उन्होने दीप प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। तत्पश्चात माॅक अभ्यास में आपसी सामंजस्य के साथ मल्टीप्ल हजाइर्स के दृश्यों पर खोज एवं बचाव कार्य किया गा। जब आपातकालीन अलार्म बजा तो पूरा शहर भूकंप के झटकों से हिलने लगा। साथ ही कुछ देर में हास्पिटल के एक हिस्से में आग लग गयी। हास्पिटल का कुछ हिस्सा मलबे में तब्दील हो गया। चारों तरफ चीख और पुकार की आवाजे आने लगी। फायर सर्विस, पुलिंस, हास्पिटल के सिक्योरिटी स्टाफ, मेडिकल स्टाफ और स्थानीय हितधारकों के साथ पीड़ितों को बचाया गया। तत्पश्चात जिलाधिकारी द्वारा विशेषज्ञ रेस्क्यू टीम को बचाव कार्य के लिए बुलाया गया। टीम ने मलबे में दबे विक्टिम को निकाला और चिकित्सीय सहायता पहुंचायी। हास्पिटल के एक हिस्से में लगी आग को काबू करने के लिए दमकल विभाग की गाड़ियां भी मौके पर पहुंच गयी। जवानों ने बहादुरता का परिचय देते हुए काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। आग लगने से नीचे आने-जाने के सभी रास्ते बंद हो गये। हास्पिटल की पहली मंजिल पर कुछ लोग फंस गये। एनडीआरएफ की रेस्क्यू टीम ने सभी फंसे मरीजों व उनके परिजनों को सकुशल बाहर निकालकर चिकित्सा दी। उपस्थित लोगों ने कहा कि इस तरह का अभ्यास निश्चित ही आपदा प्रतिरोधक समाज के निर्माण में सहायक होगा। जिला प्रशासन व हास्पिटल द्वारा मरीजों की सहायता के लिए मेडिकल पोस्ट व राहत शिविर का भी बंदोबस्त करके दिखाया गया। स्टाफ द्वारा हास्पिटल से निकाले गये मरीजों को तत्काल चिकित्सा प्रदान करते हुए उनको पहले से निर्धारित हास्पिटल कानपुर रिफर किया गया। माॅक अभ्यास की उपस्थित सभी लोगों ने जमकर सराहना की। इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 प्रभाकर पाण्डेय, वरिष्ठ परामर्शदाता डा0 विवेक निगम, अपर जिलाधिकारी पप्पू गुप्ता, चिकित्सालय प्रबन्धक कैफ अख्तर, 11 एनडीआरएफ टीम कमांडर रोहित कुमार भारद्वाज, उप टीम कमांडर धिरेंदर, फायर सर्विस की ओर से अशोक कुमार सिंह के अलावा व्यापार मण्डल के सदस्य उपस्थित रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages