Latest News

822 बच्चो व 172 गर्भवती महिलाओं का होगा टीकाकरण

डीएम आज करेंगें आईएमआई के द्वितीय चरण का शुभारंभ

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। टीकाकरण से छूटे अधिकतर बच्चे प्रभावित है। समय पर टीकाकरण न कराये जाने पर सहन शक्ति कमजोर होने के चलते बच्चे कई प्रकार की बीमारियों से ग्रसित व कुपोषित हो जाते हैं। जिससे बच्चो की जीवन रक्षा सम्भव नही हो पाती है।
रविवार को कार्यालय में पत्रकारों से रूबरू हुए सीएमओ डा विनोद कुमार ने बताया कि भारत सरकार से संचालित सघन मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण 2.0 अभियान के तहत बीमारियो से संबन्धित टीकाकरण करते हुए वित्तीय वर्ष 2019-20 तक जनपद में पूर्ण प्रतिरक्षण करना है। एक भी बच्चा एंव गभर्वती महिला टीकाकरण से न छूटें। बताया कि खसरा एंव रूबेला रोग से बचाव को एमआर वैक्सीन के टीके इसके पूर्व अभियान चलाकर बच्चो को सम्पूर्ण सुरक्षा प्रदान की जा चुकी है। यह टीका नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अन्तर्गत सभी शिशुओ एंव गर्भवती महिलाओ को निःशुल्क उपलब्ध है। आज छह जनवरी को मुख्यालय के जनकपुरी वार्ड नं 12 में सुबह साढे बजे सघन मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण 2.0 अभियान का शुभारंभ जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय करेंगें। उन्होंने बताया कि टीकाकरण करने के बाद टीकाकरण कार्ड लाभार्थियो को दिया जायेगा। जिसे आगामी टीकाकरण दिवस के दौरान सत्र पर लाना होगा। अभिभावक बेफिक्र रहे यह टीकाकरण अभियान पूर्व के
अभियान की तरह ही पूर्ण सुरक्षित है। अभियान के संचालन को अध्यापक, आगंनबाडी कार्यकत्र्री, मदरसा शिक्षको, समाजसेवियो एंव ग्राम प्रधानो का सहयोग रहेगा। टीकाकरण के माध्यम से स्माॅल-पाॅक्स तथा पोलियो विषाणु पर विजय प्राप्त कर चुके है। सभी के निरन्तर सहयोग से विषाणुजनित रोगो से बचाव करते हुए शिशु एंव मातृ मृत्यु दर को समाप्त करने की विजयगाथा लिखने को उत्सुक है। यह विजय जनपद के शिशुओ के लिए सुरक्षित जन्म एंव बेहतर स्वास्थ्य की गारण्टी होगी। ब्लाॅक पहाडी को छोडकर अन्य समस्त विकास खण्ड एवं शहरी क्षेत्र कर्वी में आईएमआई अभियान आयोजित किया जायेगा। अभियान 7 कार्य दिवसो का रहेगा। जिसमें सप्ताह मे बुधवार, शनिवार के नियमित टीकाकरण दिवसो तथा किसी भी सार्वजनिक अवकाश व रविवार को छोडकर आईएमआई अभियान संचालित किया जायेगा। द्वितीय चरण कार्य योजना अनुसार इकाईयो में कुल आयोजित सत्रो की संख्या 165 एंव 0-2 वर्ष तक के 822 बच्चो तथा कुल 172 गर्भवती महिलाओ को लक्षित किया गया है। टीकाकरण सत्रो पर स्वास्थ्य विभाग के जनपद स्तरीय अधिकारी, कर्मचारी, डबलूएचओ, यूनीसेफ, यूएनडीपी संस्थाओ के प्रतिनिधि पर्यवेक्षण करेंगें। इस मौके पर एसीएम डा इम्त्याज अहमद, डा एके कुरैचया, डा मुकेश, डीएमसी राहुल कुलश्रेष्ठ, वीसीसीएम कुसुम श्रीवास्तव, डीपीएम कमाल भट्टाचार्य मौजूद रहे।

15 से होगी एनीमिया की जांच
चित्रकूट। सीएमओ डा विनोद कुमार ने विभागाध्यक्षों से कहा कि एनीमिया मुक्त भारत अभियान को सफल बनाया जाए। खून की कमी दूर करने के लिए आयरन की गोली खिलाई जाती है। कहा कि प्रत्येक सोमवार को 31 मार्च तक एनीमिया प्रभावित महिलाओं, किशोरियो को आयरन गोली वितरित की जाएगी। इसके साथ लघु नाटिका, प्रतियोगिताओं के माध्यम से जागरुक करें। पौष्टिक व्यंजन पर जोर दिया जाए। बताया कि प्रत्येक स्कूलों में क्विज प्रतियोगिता हेोगी। शिक्षक आयरन की गोली पहले खाएगें फिर बच्चों को दें। गर्भवती महिलाओं के लिए टी थ्री कैम्प लगेंगें। जिसमें 15 से 18 जनवरी एनीमिया की जांच, गृह भेंट के द्वारा गर्भवती महिलाओं को कैम्प के बारे में जानकारी, 20 व 21 जनवरी को कैम्प का आयोजन, 22 से 31 जनवरी तक चिन्हित एनीमिया प्रभावित गर्भवती महिलाओं को आशाएं जानकारी देंगी। गोली खाने से साइड इफेक्ट का कोई असर नहीं होता।

No comments