जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया मायावती का 64 वां जन्मदिन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, January 15, 2020

जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया मायावती का 64 वां जन्मदिन

बसपाईयों ने 64 किलो का केक काटकर की दीघार्यु की कामना
2022 में पुनः मुख्यमंत्री बनाये जाने का लिया संकल्प 

फतेहपुर, शमशाद खान । बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती का 64 वाॅ जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जन्मदिन के मौके पर पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने एक मैरिज हाल में 64 किलो का केट काटकर एक-दूसरे का मुंह मीठा कराते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष की दीर्घायु की जहां कामना की। वहीं वर्ष 2022 में पुनः मुख्यमंत्री बनाये जाने का सभी ने संकल्प लिया। 
शहर के सिविल लाइन स्थित एक मैरिज हाल में पार्टी मुखिया मायावती के 64 वें जंन्मदिन पर वरिष्ठ नेताओ एवं पार्टी नेताओं ने 64 किलो का केक काटकर बहन जी के दीघार्यु की कामना की। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सेक्टर प्रभारी इलाहाबाद मण्डल अभिषेक गौतम के अलावा विशिष्ट अतिथि के रूप में सेक्टर प्रभारी इलाहाबाद मण्डल राजेश अम्बेडकर, पूर्व विधायक मुरलधर गौतम, पूर्व विधायक सुखदेव प्रसाद वर्मा ने शिरकत की। मंचासीन अतिथियों का जिला इकाई के तत्वाधान में पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं ने माला पहनाकर स्वागत किया। समारोह के दौरान पार्टी आधारित गीतों को गीता भारती ने प्रस्तुत कर जमकर जहाॅ वाहवाही लूटी। केक
बसपा सुप्रीमो के जन्मदिन पर केक काटते बसपाई।
कटते ही बहुजन समाज पार्टी जिन्दाबाद, बहन मायावती जिन्दाबाद के नारो से कार्यक्रम स्थल गूॅज उठा। तालियों की गड़गड़ाहट के बीच बहन जी तुम जियो हजारो साल, साल के दिन हो पचास हजार के नारे लगाये गये। कार्यक्रम स्थल पर सर्वप्रथम बाबा भीमराव अम्बेडकर व कांशीराम के चित्रों पर पुष्प अर्पित कर उपस्थित लोगों ने नमन किया। तत्पश्चात् एक-दूसरे को केक खिलाकर मुॅह मीठा कराते हुए खुशियों का इजहार किया गया। जन्मदिन की खुशियां बसपाईयों में देखते ही बनी। कार्यक्रम स्थल पर पूर्व मुख्यमंत्री के चाहने वालों की भारी भीड़ उमड़ी। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि अभिषेक गौतम ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश को साम्प्रदायिकता की आग में झोंकने का षड़यंच रच रही है। भाजपा की सरकारों में दलितों के साथ-साथ अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो रहे हैं। उन्होने कहा कि पार्टी मुखिया मायावती दलित, अल्पसंख्यक हितैषी है। अपने शासनकाल में उन्होने दबे-कुचले समाज के लिए बेहद काम किया है। जिसका लाभ भी गरीब तबके को मिला। उन्होने कार्यकर्ताओं से बहन जी के जन्मदिन पर संकल्प लेते हुए अभी से विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट जाने का आहवान किया। विशिष्ट अतिथियों ने भी बसपा की नीतियों व पार्टी के शासनकाल में किये गये कार्यो का बखान किया। समारोह को पूर्व विधायक सुखदेव प्रसाद वर्मा, मुरलीधर गौतम ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व मंत्री अयोध्या प्रसाद पाल ने की। इस मौके पर वीर प्रकाश लोधी, असलम शेर खां, बरातीलाल निषाद, नीरज पासी, प्रवेश कुमार गौतम, जगदीश पासी, कमलेश गौतम, वकील अहमद, सिपतैन अहमद, जैद अहमद, मो0 आसिफ एडवोकेट, पूर्व चेयरमैन शब्बीर खां, धीरज बाल्मीकि, गाजी अब्र्दुरहमान गनी, असलम राईन, छोटेलाल निषाद, विनोद गौतम, राजेश अम्बेडकर, संजय भारती, रामबाबू मौर्य, छोटेलाल पासी, सुनील गौतम आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages