Latest News

हाईटेंशन करंट से 21 गोवंश की मौत

शुक्रवार सुबह टूटकर पशु आश्रय केंद्र पर गिरा हाईटेंशन लाइन का तार 
मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी और पुकिस अधीक्षक, घटना पर जताया दुख 
डीएम ने अज्ञात के खिलाफ एफआईआर कराने और लाइन हटाने के दिए निर्देश 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । शुक्रवार की सुबह पैलानी तहसील के खप्टिहाकलां कस्बे में स्थित पशु आश्रय केंद्र में हाईटेंशन लाइन का तार टूटकर गिर जाने से पशु आश्रय केंद्र में बंद 21 गायों की मौत हो गई। एक बछड़े को मौके पर पहुंचकर उपचार के जरिए बचा लिया गया। खबर पाकर जिलाधिकारी हीरा लाल और पुलिस अधीक्षक गणेश साहा सहित एसडीएम पैलानी मंसूर अहमद सहित प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया। बिजली विभाग के सारे अधिकारी भी भागकर मौके पर पहुंचे। 
घटनास्थल पर मौजूद जिलाधिकारी हीरा लाल व पुलिस अधीक्षक गणेश साहा तथा अन्य 
बिजली विभाग की लापरवाही से बड़े-बड़े हादसे होते हैं। तमाम लाइनमैन और आम जनता के साथ ही बेजुबान भी अकाल मौत का शिकार होते हैं। शुक्रवार की सुबह हुई बड़ी घटना में हाईटेंशन लाइन का तार पशु आश्रय केंद्र खप्टिहाकलां में टूटकर गिर जाने से 21 गाएं करंट की चपेट में आ गईं, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। चिंगारी को देखकर पशु आश्रय केंद्र के कर्मचारी बिरजू, रामबाबू व कमलेश जब तक मौके पर पहुंचे तब तक गोवंश दम तोड़ चुका था। एक बछड़े को मौके पर बचाकर उसका उपचार किया गया। जिलाधिकारी हीरालाल ने इस घटना पर दुख जाहिर करते हुए अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही जंगल

के रास्ते से गुजरी जर्जर विद्युत लाइन को तत्काल प्रभाव से हटाकर उसे सांड़ी लाइन से जोड़े जाने के निर्देश एक्सईएन विद्युत को दिए। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को सचेत करते हुए कहा कि गायों का दूध निकालकर उन्हें ख्ुाला छोड़ देने की प्रथा को बंद कर दें। 
गौरतलब हो कि प्शु आश्रय केंद्र लगभग एक सैकड़ा बीघे के एरिया में 100 मीटर की परिधि पर बना है। कुछ ग्रामीणों का आरोप था कि घटनास्थल पर पुआल न पड़ा होता तो गाएं वहां पर नहीं जातीं। घटनास्थल पर बिजली करंट से मरी सभी 21 गोवंश को डा. व अधिकारियों की उपस्थिति में गड्ढा खोदकर दफन कर दिया गया। इस घटना से मौके पर उपस्थित अधिकारी कर्मचारी और ग्रामीण आहत नजर आए। अधिकारियों ने पशु आश्रय केंद्र के लोगों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। 

No comments