Latest News

आयोग को शिकायत मिलने पर मिलेगा 15 दिन में न्याय

भाजपा सरकार ने आयोग को दिया संवैधानिक दर्जा

हमीरपुर, महेश अवस्थी । राज्य पिछडा वर्ग आयोग के उपाध्यक्ष मीरा ठाकुर ने सर्किट हाउस में पत्रकारो को बताया कि पूर्ववर्ती सरकारो ने पिछड़े वर्ग के लोगो के कल्याणो में ध्यान नही दिया। मौजूदा सरकार उनके उत्थान के लिए लगी है तभी तो उसने आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है। जिससे किसी भी प्रकार के प्रताणित किये जाने या अन्य प्रकार की समस्या होने पर पन्द्रह दिन मे न्याय उनके दरवाजे खडा होगा। इसमें लापरवाही
पत्रकारो से बातचीत करते उपाध्यक्ष
करने वाले अधिकारियेां पर भी कार्यवाही की जाती है उन्होने कहा आयोग के पास कुछ मामलों मंे हाइकोर्ट के बराबर अधिकार है। आयोग इतना सशक्त कभी नही रहा। पिछड़े वर्ग के लोग हाइकोर्ट में जाने से पहले आयोग के संज्ञान मे लाये जिसमें पीडित का एक पैसा भी नही लगेगा। आयोग को गुमराह करने वाले अधिकारियांे पर भी कार्यवाही की जाती है। ठाकुर ने बताया कि उनके द्वारा अब तक 372 प्रकरणों मंे 290 को निस्तारित कर लोगो का न्याय दिलाया जा चुका है कई लापरवाह अधिकारियांे पर कार्यवाही की गयी है। पिछडा वर्ग आयोग एवं पिछडो से सम्बन्धित योजनाअेां के प्रचार प्रसार के लिए जिला व विकास खण्ड स्तर पर सेमिनार आयोजित किये जायेंगे, ताकि उनको जागरूक किया जा सके। आयोग के उपाध्यक्ष ने पिछडा वर्ग के लोगो के कल्याण के लिए संचालित योजनाओं की समीक्षा की ग्राउंड लेवल से जानकारी प्राप्त कर लोगो से फीडबैक भी लिया। जिले मंे अभी सुधार की बहुत जरूरत है। पत्रकार वार्ता में आयोग की सदस्य शकुंतला निषाद भी मौजूद थी। 

No comments