Latest News

10 जनवरी की रात उपछाया चंद्र ग्रहण लेकिन सूतक और ग्रहण का असर नहीं रहेगा

शुक्रवार 10 जनवरी 2020 यानी पूर्णिमा को उपछाया चंद्र ग्रहण लगेगा। उपछाया ग्रहण होने से इस ग्रहण का सूतक नहीं रहेगा। ग्रहण काल में पूजा-पाठ आदि कर्म किए जा सकेंगे  इसमें चंद्रमा घटता-बढ़ता नहीं दिखाई देगा, सिर्फ चंद्र के आगे धूल की एक परत-सी छा जाएगी। इस कारण चंद्र ग्रहण का कोई असर नहीं होगा।
10 जनवरी को लगने वाला ग्रहण मिथुन राशि के पुनर्वसु नक्षत्र में होगा ग्रहण रात में 10.39 बजे से शुरू होगा।

इसका मध्य 12.39 बजे होगा, इसका मोक्ष रात 2.40 बजे पर होगा। ये ग्रहण करीब 4 घंटे 50 मिनट का रहेगा। एशिया के कुछ देशों, यूएस आदि में ये ग्रहण देखा जा सकेगा। । यह केवल उपच्छाया ग्रहण है। चंद्र पृथ्वी और सूर्य तीनों ग्रह एक सीधी लाइन में नहीं होते हैं पृथ्वी की हल्की सी छाया चंद्र पर पड़ती है।  
साल 2020  में 4 उपछाया चंद्र ग्रहण होंगे उपछाया चंद्र ग्रहण होने से इस ग्रहण का सूतक नहीं रहेगा जनवरी, जून एवं नवंबर का चंद्रग्रहण भारत में दिखाई देगा, वहीं 05 जुलाई वाला भारत में दिखाई नहीं देगा। 
नए साल में पहला सूर्यग्रहण 21 जून को लगेगा भारत में  दिखेगा।। दूसरा सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर को लगेगा, लेकिन यह भारत में नहीं दिखेगा।

- ज्योतिषाचार्य एस0एस0 नागपाल , स्वास्तिक ज्योतिष केन्द्र, अलीगंज, लखनऊ

No comments