Latest News

पीड़ितों के आंसू पोछना सबसे बड़ी मानव सेवाःडा. सतीश कुमार

पुलिस प्रशिक्षण स्कूल मगरौल में 102 रंगरूटों को एसपी ने दिलाई कर्तव्य निष्ठा की शपथ
दीक्षांत समारोह में पासिंग आउट परेड की एसपी ने ली सलामी

कालपी (जालौन), अजय मिश्रा । आम नागरिक होने के बाद जब कोई युवक पुलिस का सिपाही बनने के बाद निष्ठा व सत्कर्म करने से विभाग का सम्मान बढ़ता है सबसे पहले पीड़ित सिपाही के पास पहुंचता है जिनके आंसू पोछना सबसे बड़ी सेवा है किसी भी हादसे में तड़पते लोगों की जान बचाना पुण्य का काम है।
उक्त बात बीहड़ क्षेत्र महेवा विकास खण्ड के ग्राम मंगरौल में पुलिस प्रशिक्षण स्कूल में 102 रंगरूटों का प्रशिक्षण पूर्ण होने पर दीक्षांत समारोह में आम नागरिक से सिपाही बने रंगरूटों को शपथ दिलाते हुए पुलिस अधीक्षक डा. सतीश कुमार ने कहीं उन्होंने कहा कि 30 जून को 105 नए रंगरूटों का प्रशिक्षण शुरू हुआ था जिसमें 102
रंगरूटों से परिचय प्राप्त करते एसपी डा. सतीश कुमार।
आरक्षी प्रशिक्षण में पास हुए जिनकी जनता के बीच व्यवहारिक परीक्षा होगी ध्यान रहे की पुलिस की वर्दी पहनने के बाद सिपाही जहां भी तैनात होता है वहां पीड़ितों, महिलाओं, गरीबों को दबंगों द्वारा सताया जाता है जिसके न्याय के लिये वह सबसे पहले पुलिस के पास पहुंचते हैं जिसकी पीड़ा को समझने के बाद उनके आंसू पूछकर कर्तव्य निष्ठा का ध्यान रखते हुए सेवा करनी चाहिए ईमानदारी व निपुणता से कार्य करने वाले पुलिसकर्मियों से ही विभाग एवं पुलिस अधीक्षक को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है भरोसेबंद सिपाहियों से सभी सलाह मशवरा भी करते हैं। पुलिस का जनता के प्रति मित्रवर व्यवहार होना चाहिए तो पुलिस को हर रास्ते पर सफलता मिलेगी जहां भी आप तैनात रहे नई गतिविधियों आने वाले नए आदेशों को दृष्टिगत रखते हुए हर तैयारी पूरी करनी चाहिए तो अमन चैन कायम रखने में सफलता मिलती है। इसके पहले पुलिस अधीक्षक ने नए रंगरूटों के खुली कार से तथा मंच से सलामी ली

जंगल में  हुआ मंगल दुल्हन की तरह सजा था स्कूल
दीक्षांत समारोह को भव्य बनाने के लिए प्रभारी पुलिस अधीक्षक प्रशिक्षण व अपर पुलिस अधीक्षक आनंद कुमार एवं क्षेत्राधिकारी सैन्य सहायक उमेश चंद्र त्यागी व टीआई बृज किशोर साहू सहित प्रशिक्षण स्कूल में तैनात अन्य निरीक्षकों के द्वारा स्कूल को दुल्हन की तरह सजाया गया था चारों ओर जंगल होने के बावजूद मंगल दिखाई दे रहा था।

अच्छे अंकों  व निपुणता पर किया सम्मानित
छैः माह के प्रशिक्षण में 17 रंगरूटों ने 81 से 80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए इसके अलावा विशेष विषयों में दक्षता आने पर 7 लोगों को सम्मानित किया गया जिसमें सागर तोमर, जितेंद्र चैधरी, विष्णु कुमार, अंकित कुमार, विकास कुमार, नीतू सिंह आदि प्रमुख थे सभी 105 रंगरूटों का प्रशिक्षण प्रमुख ट्रेनिंग प्रशिक्षक बृजेश कुमार के द्वारा कराया गया जिनके मार्गदर्शन में सभी प्रशिक्षणदाताओं ने प्रशिक्षण दिया इस मौके पर कालपी कोतवाल मानिकचन्द्र पटेल व रंगरूटों के परिवारीजन मौजूद रहे।

No comments