Latest News

तीन दर्जन से ज्यादा आशाओं को मिले स्मार्टफोन

आनलाइन फीडिंग करेंगी आशा और आशा संगिनियां
अब स्मार्ट फोन के जरिए आशा और आशा संगनियां करेंगी फीडिंग 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । जनपद के बडोखर ब्लाक के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के दायरे में काम करने वाली 38 आशाओं को मंगलवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी सभागार में स्मार्टफोन बांटे गये। इनके जरिये आशाएं मातृ एवं बाल स्वास्थ्य से सम्बंधित कार्यक्रमों और गैर-संचारी रोगों (एनसीडी) की समय से पहचान व रिपोर्टिंग कर सकेंगी, साथ ही यह डाटा की भी ऑनलाइन फीडिंग कर सकेंगी। स्मार्टफोन का वितरण जिला कार्यक्रम

आशाओं को स्मार्ट फोन देते हुए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी 
अधिकारी कुशल यादव व जिला सलाहकार मातृ स्वास्थ्य अमन गुप्ता द्वारा किया गया।  
जिला कार्यक्रम अधिकारी कुशल यादव ने आशाओं से कहा कि वे मातृ एवं बाल स्वास्थ्य कार्यक्रमों और गैर-संचारी रोगों की जानकारी स्मार्टफोन की मदद से ऑनलाइन पोर्टल पर फीड करें जिससे उनकी सही निगरानी और संदर्भन हो सके। सभी डिवाइस में काम की निगरानी और सुरक्षा के लिए जीपीएस लगा हुआ है। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि ये स्मार्टफोन सरकार की संपत्ति हैं इसलिए इन्हें  संभाल कर रखें और निर्देश दिए कि इनका किसी भी तरह का दुरुपयोग न किया जाए। जिला सलाहकार मातृ स्वास्थ्य अमन गुप्ता ने बताया कि जनपद में कुल 152 स्मार्टफोन दिए जाने हैं। बडोखर और महुआ ब्लाक के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों के दायरे में कार्यरत सभी 58 आशा संगिनियों तथा 37 आशाओं को पहले स्मार्टफोन दिए चुके हैं जबकि 38 आशाओं को आज स्मार्टफोन दिए गए हैं। गैर-संचारी रोगों के अलावा मातृ एवं शिशु मृत्यु, गर्भवती महिलाओं, परिवार नियोजन, और जननी सुरक्षा योजना व प्रधान मंत्री मातृत्व वंदना योजना आदि की जानकारी भी स्मार्टफोन के द्वारा ली जाएगी। उन्होंने बताया कि जनपद में कुल 1413 आशाएँ कार्यरत हैं और अगले दो सालों यानि वर्ष 2021 तक जिले के सभी गाँवों में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खोले जाएँगे और समस्त आशाएँ स्मार्टफोन द्वारा डाटा की ऑनलाइन फीडिंग करेंगी।

No comments