Latest News

परिवार परामर्श केंद्र ने दो वादों की सुनवाई कर कराया समझौता

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । रविवार को पुलिस लाइन सभागार में महिला परिवार परामर्श केंद्र में दर्ज मामलों की सुनवाई के दौरान दो मामलों में दोनों पक्षों में समझौता कराया। इसके बाद मामूली विवाद के चलते पति-पत्नी जो एकल जीवन जीने को विवश थे उनके चेहरों पर खुशी नजर आयी।
महिला परिवार परामर्श में वादों की सुनवाई के दौरान नेहा कुशवाहा पुत्री महेंद्र निवासी बंगरा व अनुज कुशवाहा पुत्र जयसिंह निवासी बंगरा के बुलाया जहां केंद्र के सदस्यों ने दोनों पक्षों को अपनी-अपनी बात रखने का अवसर दिया। इस बीच ऐसी कोई बात नजर नहीं आयी कि इस तरह से पति-पत्नी के बीच अलगाव की स्थिति
बने। बाद में जब दोनों पक्षों को केंद्र के सदस्यों ने समझाया तो वह फिर से एक साथ रहने को तैयार हो गये। इसी के साथ दोनों पक्षों में समझौता कराया गया। दूसरे मामले में पुष्पा पुत्री हीरालाल निवासी मकरंदपुरा व उमाकांत पुत्र रामबहादुर निवासी मकरंदपुरा को भी केंद्र सदस्यों के बीच अपनी-अपनी बात रखने का मौका मिला उसमें भी परिवारिक बातों को लेकर आपसी मनमुटाव होने की बात सामने आयी। इसके बाद जब केंद्र के सदस्यों ने दोनों पक्षों को समझौता तो वह साथ-साथ रहने को तैयार हो गये। इस दौरान केंद्र के सदस्य नसीम खान, मंजू रानी, भानुप्रकाश लाक्षाकार, मीनू गोस्वामी, अवध नारायण द्विवेदी, राजेश शर्मा, अंजू शर्मा, सिपाही दिनेश कुमारी व श्वेता सिंह उपस्थित रहीं।

No comments