Latest News

पुलिस के चक्रव्यूह को तोड़ कांग्रेसियों ने फूंका सीएम का पुतला

उन्नाव की बेटी को न्याय दिलाने के लिए दिया धरना 

फतेहपुर, शमशाद खान । उन्नाव रेप पीड़िता की हत्या के बाद से प्रदेश में सुलगी आग थमने का नाम नहीं ले रही है। रविवार को कांग्रेसियों ने उन्नाव की बेटी को न्याय दिलाये जाने के लिए जहां धरना दिया। वहीं पुलिस के चक्रव्यूह को तोड़ते हुए चंद कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पुतले को आग के हवाले करते हुए प्रदेश सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाये। एक ओर पुतला फुंकता रहा और दूसरी ओर पुलिस मूकदर्शक बनी देखती रही। पुतला जलने के बाद कांग्रेसी नारेबाजी करते हुए चले गये। 

 बुलेट चैराहा पर सीएम का पुतला फूंकते कांग्रेसी।  
बताते चलें कि उन्नाव रेप पीड़िता मुकदमे की पैरवी के लिए रायबरेली जाने के लिए स्टेशन जा रही थी। तभी रास्ते में आरोपियों ने उसे घेर कर मारपीट की और उसे जिन्दा जला दिया था। दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में शनिवार की सुबह उसकी सांसे थम गयी थी। हैदराबाद की घटना के तुरन्त बाद हुयी उन्नाव की इस हृदयविदारक घटना से समूचे प्रदेश में आक्रोश की ज्वाला फूट पड़ी। विपक्षी दलों के साथ-साथ अन्य संगठनों ने इस घटना की घोर निन्दा करते हुए आरोपियों को फांसी की सजा दिये जाने के साथ ही प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था पर उंगलियां उठानी शुरू कर दी हैं। इसी क्रम में रविवार को उन्नाव की बेटी को न्याय दिलाने के लिए कांग्रेसियों ने बुलेट चैराहा पर धरना दिया। यह चैराहा पुलिस अधीक्षक आवास से महज चंद कदम की दूरी पर है। कांग्रेसियों को रोकने के लिए पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा के दिशा-निर्देशन में इस एरिया को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। दो इंस्पेक्टरों समेत कई उपनिरीक्षक व बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात किये गये थे। धरने के दौरान कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था पर जमकर तीर चलाये। कांग्रेसियों का कहना रहा कि प्रदेश में कानून का राज नहीं बल्कि जंगल राज कायम हो गया है। अपराधी बेखौफ होकर घटनाओं को अंजाम देने में जुटे हुए हैं। इसकी खास वजह यह है कि अपराधियों को सत्ता पक्ष के नेताओं का संरक्षण हासिल है। जिसके चलते ही उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हृदय विदारक धटना दिन दहाड़े अंजाम दी गयी। कांग्रेसियों का कहना रहा कि प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसी नेताओं पर लाठी-चार्ज करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाये। चंद कांग्रेसी पुलिस द्वारा बुने गये चक्रव्यूह को तोड़ते हुए पुलिस अधीक्षक आवास से महज चंद कदम की दूरी पर बुलेट चैराहा पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला लेकर आ गये और उसे नारेबाजी के बीच आग के हवाले कर दिया। पुतला धूं-धूंकर जलता रहा और पुलिस मूकदर्शक बनी देखती रही। कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री मुर्दाबाद, भाजपा सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाये। पुतला जलने के बाद कांग्रेसी नारेबाजी करते हुए चले गये। इस मौके पर शिवाकांत तिवारी, वीरेन्द्र सिंह चैहान, विनय तिवारी, संतोष कुमारी शुक्ला, वीरेन्द्र गुप्ता, आशीष गौड़, राजन तिवारी, उदित अवस्थी, बब्लू कालिया, मोनू तापस, रेहान खान, नवनीत तिवारी, हुसैन रिजवी, शिखर शुक्ला, अशोक दुबे, धीरू तिवारी आदि मौजूद रहे। 

No comments