Latest News

सरकार के बहकावे में न आएं, एकजुट रहें लेखपाल

बांदा, कृपाशंकर दुबे । प्रांतीय आह्वान पर उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ का धरना व कार्य बहिष्कार जारी है। आंदोलनकारी लेखपाल सरकार पर हमलावर होने लगे हैं। जिले भर के लेखपालों ने सदर तहसील परिसर में धरना-प्रदर्शन किया। कहा कि लेखपाल एकजुटता के साथ आंदोलन जारी रखें। सरकार के किसी भी बहकावे में न आएं। हर हाल में मांगे पूरी करा कर आंदोलन खत्म होगा। 
सदर तहसील में धरना-प्रदर्शन करते लेखपाल
लेखपाल संघ जिला इकाई की अगुवाई में शनिवार को सदर तहसील परिसर स्थित लेखपाल संघ भवन में जिले भर के लेखपालों ने कार्य बहिष्कार और धरना में भागीदारी की। लेखपालों ने पूर्व जिलाध्यक्ष सुशील कुमार श्रीवास्तव की अगुवाई में धरना सभा के साथ प्रदर्शन किया। सरकार विरोधी नारे गूंजते रहे। धरना सभा का संचालन कर रहे जिला मंत्री राकेश कुमार बुंदेला ने कहा कि सरकार की कार्रवाई से लेखपाल डरेंगे नहीं। अपनी मांगें पूरी कराकर ही अब लेखपाल दम लेंगे। लेखपालों के कार्य बहिष्कार और प्रदर्शन को लंबा समय गुजर गया लेकिन सरकार कोई संज्ञान नहीं ले रही है। प्रांतीय आडिटर मूलचंद्र पटेल ने आह्वान किया कि अब लेखपाल संघ भी अपनी आठ सूत्रीय मांगों के समर्थन का शासनादेश प्राप्त करके ही हड़“ताल खत्म करेगा। हर हाल में अपनी मांगें सरकार से मनवाकर रहेंगे। जिलाध्यक्ष शिवचंद्र यादव ने कहा कि जब तक शासन हमारी मांगों को नहीं मानता है। तब तक प्रांतीय नेतृत्व के निर्देश पर आंदोलन जारी रहेगा। सदर तहसील अध्यक्ष बालकृष्ण शिवहरे ने कहा कि लेखपाल सरकार के किसी भी बहकावे में न आएं। एकजुटता व अनुशासन में रहकर लेखपाल आंदोलन जारी रखें। छंगूराम, गौरव सिंह, गुलाब सिंह, भानु प्रताप गुप्ता, राजेंद्र सिंह पटेल, अलखराम अवस्थी, महेंद्र कुशवाहा, राजकुमार पटेल, राकेश बाबू, राजेंद्र निगम, कुमारी निशा, कुमारी प्रीति कुशवाहा, कुमारी रजनी, रमेश यादव, अशोक तिवारी, कमल कुमार पांडेय समेत तमाम लेखपाल शामिल रहे। 

No comments