रेप के बाद किशोरी को जलाने वाला दरिन्दा पुलिस के हत्थे चढ़ा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, December 15, 2019

रेप के बाद किशोरी को जलाने वाला दरिन्दा पुलिस के हत्थे चढ़ा

दूसरे दिन भी गांव में रहा तनाव का माहौल, पुलिस रही तैनात 
आरोपी बोला किशोरी ने स्वयं लगाई थी आग

फतेहपुर, शमशाद खान । हुसैनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में बलात्कार के बाद किशोरी को जिन्दा जलाने के मामले में आरोपी दरिन्दा पुलिस के जत्थे चढ़ गया है। पकड़े गये आरोपी का कहना रहा कि काफी समय से उसका प्रेम प्रसंग किशोरी से चल रहा था। गांव में पंचायत हुयी थी। जिसके बाद किशोरी ने उसे घर बुलाया और स्वयं आग लगा ली थी। आरोपी के इस बयान पर लोगों ने राजनीति भी करनी शुरू कर दी है। उधर दूसरे दिन भी गांव में तनाव के माहौल को देखते हुए पुलिस बल तैनात रहा। 
आरोपी मेवालाल को न्यायालय ले जाते पुलिस कर्मी।  
बताते चलें कि हुसैनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में किशोरी घर पर अकेली थी। तभी पड़ोस में रहने वाला एक युवक किशोरी के घर घुस गया और उसके साथ बलात्कार करके मिट्टी का तेल उड़ेलकर आग के हवाले कर दिया था। किशोरी आग का गोला बनी घर से भागी और चिल्लाने लगी। जिस पर ग्रामीणों ने बोरा डालकर आग बुझायी और उसे गम्भीर हालत में उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। किशोरी लगभग नब्वे प्रतिशत जल गयी थी। डाक्टरों ने हालत चिन्ताजनक देखते हुए उसे उपचार के लिए कानपुर हैलट अस्पताल रिफर कर दिया था। उधर आरोपी अपने परिवार के साथ घर से फरार हो गया था। घटना के बाद से गांव में तैनाव की स्थिति पैदा हो गयी थी। इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा ने गांव में भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी थी और आरोपी की सरगर्मी से तलाश की जा रही थी। जिसमें कामयाबी हासिल करते हुए पुलिस ने आरोपी मेवालाल को हिरासत में ले लिया है। पकड़े गये मेवालाल ने बताया कि उसका किशोरी से दो वर्षों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। गांव में सभी को इसकी जानकारी हो गयी थी। परिवार में तनाव बढ़ने पर शनिवार की सुबह गांव में पंचायत हुयी थी। जिसमें निर्णय लिया गया था कि जब तक किशोरी की शादी नहीं हो जाती तब तक वह गांव से बाहर रहेगा। निर्णय के बाद ही किशोरी ने उसे अपने घर बुलाया था। प्रेमिका किशोरी के घर पहुंचने पर उसने स्वयं आग लगाकर जान देने की कोशिश की थी। दहशत की वजह से वह परिवार के साथ फरार हो गया था। आरोपी के इस बयान के बाद मामला अब और संदिग्ध हो गया है। उधर इस जघन्य अपराध पर राजनीतिक दलों ने आरोपी को फांसी की सजा दिये जाने की मांग की है। गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए घटना के दूसरे दिन रविवार को भी पुलिस बल तैनात रहा। उधर झुलसी किशोरी का हैलट अस्पताल में उपचार चल रहा है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages