Latest News

ट्रक से कुचलकर दो बहनों की मौत

बाइक सवार बहनोई गंभीर रूप से घायल, कानपुर रेफर 
गुरुवार की रात को भूरागढ़ बाईपास के समीप हुई दुर्घटना 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । भूरागढ़ बाईपास में गुरुवार की रात को ट्रक ने बाइक सवार दो बहनों को कुचल दिया, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बाइक सवार युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे जिला अस्पताल से कानपुर रेफर कर दिया गया। दोनो शवों का पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया है। 
जनपद हमीरपुर के मौदहा थाना अंतर्गत फत्तेपुर गांव निवासी अनामिका (16) पुत्री परशुराम तकरीबन दो महीना पहले अपनी फुफेरी बहन करुणा (16) पुत्री लल्लू विश्वकर्मा के यहां मनवारा गांव थाना गौरिहार जिला छतरपुर गई हुई थी। गुरुवार को शहर के मुक्तिधाम इलाके में रहने वाले देवकरण के पुत्र का बरहों संस्कार था।


इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सुनील (30) पुत्र कामता प्रसाद निवासी खुटला मोहल्ला शहर कोतवाली भी गया हुआ था। तभी मनवारा गांव से करुणा का फोन बहनोई सुनील के पास पहुंचा और करुणा ने सुनील को मनवारा गांव आने और उन्हें बांदा कार्यक्रम में लेकर जाने की बात कही। इस पर सुनील परिवार में किसी से बताए बिना अपनी मोटरसाइकिल से सीधे मनवारा गांव पहुंचा और वहां से अनामिका और करुणा को बाइक में बैठाकर रात तकरीबन नौ बजे बांदा जाने के लिए रवाना हुआ। बाइक सवार दोनों बहनें और उनका बहनोई अभी भूरागढ़ बाईपास चैराहे पर ही पहुंचे थे, तभी पीछे से आ रहे तेज रफ्तार डंपर ने बाइक में टक्कर मार दी। टक्कर लगने से बाइक उछलकर दूर जा गिरी और दोनों बहने ट्रक के नीचे आ गई जिससे उनकी कुचलकर मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बहनोई सुनील ट्रक में फंसकर काफी दूर तक घिसटता हुआ चला गया और

गंभीर रूप से घायल हो गया। दुर्घटना के बाद चालक ट्रक समेत मौके से भाग निकला। हालांकि परिजनों का कहना है कि ट्रक पकड़ लिया गया है लेकिन चालक मौके से भाग निकला है। बरसते पानी के बीच लोगों ने पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल सुनील को उठाकर तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराया और मृतक दोनों बहनों का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम हाउस में मृतक दोनों बहनों के रिश्तेदार वीरेंद्र विश्वकर्मा ने बताया कि अनामिका ने कक्षा 8 तक की पढ़ाई की थी। जबकि करुणा हाई स्कूल की पढ़ाई कर रही थी। कर लूंगा दो बहनों में छोटी थी उसकी बड़ी बहन की शादी सुनील के साथ हुई है। उसकी मां राम श्री और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। जबकि अनामिका दो बहनों में बड़ी थी। उसके तीन भाई भी है। अचानक हुई इस घटना से मृतक परिवारों में मातम का माहौल है।

No comments