Latest News

गोवंश की लगातार हो रही मौतों से गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम

गुस्साये ग्रामीणों को तहसीलदार ने कराया शांत

माधौगढ़ (जालौन), अजय मिश्रा । तहसील की बरगुवां (रेंढ़र) गांव की गौशाला में अव्यवस्थाओं से लगातार गोवंश की मौत हो रही थी। जिसके कारण गांव के ग्रामीणों ने उग्र प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। घटना की सूचना मिलते ही नायब तहसीलदार चंद्रकांत तिवारी ने मौके पर पहुंचकर गुस्साए ग्रामीणों को शांत कराने का प्रयास किया। इसके अलावा उन्होंने प्रधान और सचिव की लापरवाही की जांच कराने की बात कही है। 
वरगुवां, कुठौंदा गांव में बनी गौशाला में कोई व्यवस्था नहीं है। गौशाला में खाने की व्यवस्था है ना ऊपर छत है। जिसकी कारण सर्दी के मौसम में गोवंश की हालत खराब हो रही है। बुधवार की रात में एक गाय की मौत हो गई

थी। जिससे दफना दिया गया था। इसके अलावा दो और अन्य गाय की मौत हो गई, जिसके बाद ग्रामीणों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। ग्रामीणों कुकदीप पांडेय, सोनू, रिंकू व्यास, सोनू ठाकुर, भानु झा, राजू बादल, लालजी, सोनू गोस्वामी, अनिल, अवधेश, सुरेश, दयाराम, जगत नारायण, पंकज, केदार आदि ने प्रधान मुन्नालाल पर आरोप लगाते हुए कहा की गौशाला में कोई व्यवस्था नहीं है और सर्दी के कारण लगातार गौवंश की मौत हो रही है। प्रशासन ने ग्रामीणों की आक्रमकता पर मरहम लगाने की कोशिश करते हुए जल्द से जल्द कार्रवाई कराने की बात कही। मृत गाय को वही गड्ढा खोदकर दफना दिया गया। गौशाला में ऐसी हालत सिर्फ एक जगह की नहीं है। लगभग सभी गौशाला में यही अव्यवस्था है। 2 दिन पहले कुठौंदा गांव में भी कई गोवंशो की मौत हो गई लेकिन ग्राम पंचायत सचिव ग्रामीणों की शिकायत पर उन्हें हेकड़ी दिखाने का काम करता है। गौशाला में गोवंश की मौत होने पर तहसीलदार प्रेम नारायण प्रजापति ने कहा कि कुछ गौवंश के बीमार होने की सूचना मिली थी। उनका इलाज कराया गया था लेकिन बाद में उनकी मौत हो गई है। जिसकी जांच कराई जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

No comments