Latest News

शिक्षा के साथ-साथ खेलों का महत्व भी बताएं: डीएम

36वीं मण्डलीय बाल क्रीडा एवं शैक्षिक प्रतियोगिता 

बिजनौर (संजय सक्सेना)  जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य है, उन्हें शिक्षा के साथ-साथ खेलों का महत्व भी बताना चाहिए ताकि बच्चे अपने भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए खेल के क्षेत्र में भी अपना नाम रौशन कर सकें। उन्होंने कहा कि बच्चों को शिक्षा से मानसिक शक्ति प्राप्त होती है और खेल-कूद से शारीरिक शक्ति प्राप्त होती है। बच्चों को अपने स्कूली दिनों में भी अधिक से अधिक खेल-कूद प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करना चाहिए और अपने तन-मन को स्वस्थ रखना चाहिए।  जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय सोमवार सुबह 10.00 बजे बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं की 36वीं मण्डलीय बाल क्रीडा एवं शैक्षिक प्रतियोगिता में अपने विचार व्यक्त कर रहे

थे। सर्वप्रथम मुख्य अतिथि जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय व विशिष्ट अतिथि मुख्य विकास अधिकारी कामता प्रसाद सिंह ने कार्यक्रम का शुभारम्भ माॅ सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलित एवं माल्यपर्ण कर किया। कार्यक्रम को संचालित कर रहे जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी महेश चन्द ने मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि को स्मृति चिन्ह भेट कर उनका स्वागत किया।
प्रतियोगिता कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जो प्रतियोगी अन्य जनपदों से आये हैं, उनकी सुविधाओं का पूरा ध्यान शिक्षा विभाग द्वारा रखा जायेगा। जनपद में प्रत्येक वर्ष विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है, जिसमें स्कूली बच्चे विभिन्न खेलों में अपनी प्रतिभा को निखारते हैं। आज समाज में तरह-तरह की परेशानियां उत्पन्न हो रही हैं जिसका सीधा असर हमारे तन और मन पर पडता है, परन्तु इन सभी तनावों से दूर रहने के लिए  हमें प्रतिदिन व्यायाम, दौड़ तथा अन्य खेलो को खेलना चाहिए। कार्यक्रम में अन्य अधिकारियों ने भी अपने विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर स्कूली छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये और धावक मौ0 आमिर ने समस्त प्रतिभागियों को खेलो के प्रति जागरूकता की शपथ दिलाई। जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने गुब्बारे उडाकर एवं हरी झण्डी दिखाकर 50 मीटर दौड का शुभारम्भ किया। मुख्य विकास अधिकारी कामता प्रसाद सिंह, जिला कोषाधिकारी सूरज कुमार, उप जिलाधिकारी सदर ब्रिजेश कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी महेश चन्द, सहित विभिन्न स्कूलों के पीटीआई एवं छात्र-छात्राएं  मौजूद रहे।

No comments