Latest News

हैदराबाद में हुए सामूहिक दुष्कर्म व हत्या वाली घटना में दोषियों को सजा दिलाने हेतु विशाल आक्रोष जुलूस एवं श्रद्धांजलि सभा का आयोजन

हैदराबाद में डॉक्टर बिटिया से सामूहिक दुष्कर्म और जिंदा जलाकर हत्या जैसे जघन्य अपराध पर आम जनमानस में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है हर कोई घटना की निंदा करते हुए अपना विरोध जता रहा है इसी कड़ी में समाज सेविका दीप्ति सिंह व डॉ0 बिंदु सिंह के नेतृत्व में शिक्षक पार्क नवीन मार्केट परेड से भारत माता मूर्ति बड़ा चौराहा तक विशाल आक्रोष जुलूस निकाला गया और डॉ0 प्रियंका रेड्डी की आत्मा की शांति हेतु श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई जिसमें हजारों आक्रोशित महिलाओं ने हैदराबाद कांड की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी सजा की मांग की व विरोध प्रदर्शन किया और मोमबत्ती जलाकर पुष्प अर्पित करते हुए मृत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की
कानपुर गौरव शुक्ला:- शिक्षक पार्क से निकाले गए विशाल आक्रोष जुलूस में समाज सेविका दीप्ति सिंह एवं डॉ0 बिंदु सिंह के आवाह्न शहर की कई स्वयंसेवी संस्थाओं के सदस्य व प्रबुद्धजनों के साथ हजारों की संख्या में महिलाएं शामिल हुई आक्रोशित महिलाओं ने हैदराबाद में हुए डॉ0 प्रियंका रेडी के साथ सामूहिक दुष्कर्म हत्या जैसी दिल दहला देने वाली घटना में दोषी को फांसी की सजा की मांग के साथ विरोध प्रदर्शन किया जिसमें महिलाओं के बीच भारी आक्रोश दिखाई दिया
बैनर लिए काली पट्टी बांधे सड़क पर हजारों की भीड़ हाथों में तरह-तरह के स्लोगन लिखी तख्तियां लिए आक्रोश भरी आवाज और एक स्वर में होने वाली नारेबाजी इस चीज की गवाह थी कि आब नारी शक्ति का गुस्सा बर्दाश्त के बाहर है इस विशाल आक्रोश जुलूस में शामिल महिलाएं एवं स्वर में मौजूदा कानून में बदलाव करने या नया व कानून बना कर दोषियों को सजा-ए-मौत दिए जाने की मांग कर रही थी
इस दौरान दीप्ति सिंह ने कहा कि हैदराबाद में एक बेटी के साथ हुई दिल दहला देने वाली घटना से संपूर्ण भारतवर्ष में आक्रोश व्याप्त है हम नारी शक्ति ऐसे जघन्य अपराधों को बर्दाश्त नहीं कर सकते उन्होंने कहा कि हैदराबाद की घटना ने दिल को झकझोर दिया जिससे मन बहुत दुखी है हम महिला अपराध रोकने के लिए सख्त कानून बनाए जाने व दोषियों को मौत की सजा दिए जाने की मांग करते हैं
डॉ0 बिंदु सिंह ने कहा कि महिलाओं और बेटियों के साथ हो रही है ऐसी जगन ने अपराध वाली घटनाओं पर दोषियों को सख्त से सख्त सजा और मौजूदा कानून में बदलाव की मांग के साथ महिलाएं ऐसे जघन्य अपराध बर्दाश्त ना करने को प्रबंध है उन्होंने कहा कि पूर्व में भी महिला और बेटियों के साथ ऐसी घटना हो चुकी है लेकिन कोई सख्त सजा ना मिलने के कारण दुष्कर्म और हत्या जैसी घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रही है आखिर कब होगा बलात्कार मुक्त भारत उन्होंने कहा कि अब सब्र का बांध टूट चुका है हम नारी शक्ति एक सुर में ऐसे अपराधों की निंदा करते हैं और दोषियों के खिलाफ कड़ी सजा की मांग करते हैं
आक्रोश जुलूस में शामिल महिलाओं ने बड़ा चौराहा स्थित भारत माता मूर्ति परिसर में मोमबत्ती जलाकर शोक सभा की और पुष्प अर्पित करते हुए देश की बेटी की आत्मा को शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की इस मौके पर समाज सेविका दीप्ति सिंह (एडवोकेट), डॉ0 बिंदू सिंह, प्रियंका तिवारी,डॉ0 अनुपमा देशवाल, आभा निगम,स्नेह अघ्नोत्री,,शोमिल शर्मा,प्रभा पांडेय ,कविता सिंह ,शिवि शुक्ला, डॉ0 प्रतिमा शर्मा, कीर्ति त्रिपाठी सहित हजारों की संख्या में महिलाएं मौजूद रहीं

No comments