Latest News

चौदहवें दिन जारी रहा लेखपालों का कार्य बहिष्कार

मांगे पूरी न होने तक आन्दोलन जारी रखने की चेतावनी
बांदा, कृपाशंकर दुबे । उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के प्रान्तीय आवाहन पर जिला लेखपाल संघ भवन तहसील परिसर में इन्द्रजीत सिंह कुशवाहा तहसील अध्यक्ष नरैनी की अध्यक्षता में सुबह दस बजे से अपरान्ह 4 बजे तक सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार एवं धरना प्रदर्शन जारी रहा। धरना प्रदर्शन एवं सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार में जनपद के समस्त लेखपाल बंधु एवं लेखपाल बहने उपस्थित रही। सभा का संचालन राकेश कुमार बुन्देला जिला मंत्री ने किया।
सदर तहसील में धरने पर बैठे लेखपाल 
चैदहवें दिन सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार एवं धरना प्रदर्षन में राकेश कुमार बुन्देला जिला मंत्री ने कहा कि हमारी आठ सूत्रीय मांगों को जब तक सरकार नही मानती तब तक हमारा आन्दोलन चलता रहेगा। जिलाध्यक्ष शिवचन्द्र यादव ने कहा कि हमारा आन्दोलन अनवरत जारी रहेगा और सरकार को हमारी मांगे माननी पड़ेगी। राममूरत पटेल ने कहा कि प्रत्येक लेखपाल अपनी मांगे मनवाने के लिये सर्वस्व न्यौछावर करने को तैयार है। मूलचन्द्र पटेल प्रान्तीय आडीटर ने कहा कि सरकार चाहे जितनी दण्डनात्मक कार्यवाही करें, जब तक हमारी मांगे पूरी नही होगी, काम पर नही लौटेंगे। अब्दुल मजीद खान ने कहा कि हमारे आन्दोलन को चैदह दिन हो चुके है लेकिन सरकार के कान में जूं क नही रेंग रही है। कार्य बहिष्कार एवं धरना प्रदर्शन में भानुप्रताप गुप्त, गौरव सिंह, गुलाब सिंह, छंगूराम, राजकुमार, सुरेश कुमार, दीपक त्रिपाठी, बल्देव यादव, बाबूलाल यादव, मान सिंह, अखिलेश, राजेन्द्र सिंह, शिवकुमार, ज्ञानेन्द्र सिंह, श्यामसुन्दर, प्रियंका नायक, रजनी शिवहरे, यशिता शुक्ला, संजना वर्मा, पूजा गुप्ता, निधि गुप्ता, दिनेश यादव, रामचन्द्र सोनी, जमुना प्रसाद, विजय कुमार शर्मा, धीरेन्द्र सिंह आदि लेखपालों ने विचार व्यक्त किये।

पेंशन बचाओ मंच ने किया आन्दोलन का समर्थन

बांदा। अटेवा प्रदेश नेतृत्व के आहवान पर अटेवा पेंशन बचाओ मंच ने मण्डल अध्यक्ष बीरेन्द्र पटेल के नेतृत्व में जिला संयोजक अनूप सिंह, महासचिव जयनारायण श्रीवास, सह संयोजक डी.सी. श्रीवास्तव सहित आधा सैकडा कार्यकर्ताओं ने लेखपाल संघ के आन्दोलन के समर्थन एवं उनके विरूद्ध की जा रही कार्यवाहियों के विरोध में तहसील प्रांगण समर्थन पत्र देकर आन्दोलन में सम्मिलित हुये। धरने को सम्बोधित करते हुये मण्डल अध्यक्ष बीरेन्द्र पटेल ने कहा कि प्रदेश क लेखपाल अपनी जायज मांगों के लिये आन्दोलनरत है। लेकिन सरकार मांगे मानने की बजाय कार्यवाहियां कर रही है। जिसकी अटेवा संगठन निंदा करता है। जिला संयोजक अनूप सिंह ने कहा कि हम कार्यवाहियों से डरने वाले नही है। अब हमारा संघर्ष और तेज होगा। संरक्षक मण्डल से विद्याभूषण सिंह और शैलेन्द्र रावत ने कहा कि अब यह लड़ाई केवल लेखपाल भाईयों की नही, प्रदेश के कर्मचारियों की है। इस दौरान ब्रम्हर्षि शुक्ला, निरंजन चक्रवर्ती, चंदन सिंह, विनोद पटेल, अरूण साहू, शिवकान्त, मनोज सिंह, जसवंत सिंह, के सी प्रजापति, उदयभान, अखिलेश यादव सहित आधा सैकड़ा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

No comments