Latest News

जल निगम कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन कर उठाई आवाज

समस्या निस्तारण न होने पर जल निगम संयुक्त समिति द्वारा चल रहा धरना

बांदा, कृपाशंकर दुबे । उत्तर प्रदेश जल निगम संयुक्त समिति लखनऊ के आहवान पर 10 दिसम्बर से जनपद इकाई द्वारा सात सूत्रीय मांगों के समाधान एवं असहयोग आन्दोलन एवं कार्यालय में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। जिसमें समस्याओं के निस्तारण की मांग की गई।

धरना प्रदर्शन करते जल निगम कर्मचारी
धरना प्रदर्शन कर रहे संयुक्त समिति के अध्यक्ष विजयराम ने बताया कि जल निगम से सप्ताह वेतनमान लागू किये जाने के लिये शासकीय विभागों में लागू सप्तम वेतनमान सम्बंधी शासनादेश को जल निगम में लागू किया जाये। जल निगम को पूर्व की तरह शासकीय विभाग में परिवर्तित किया जाये। शासकीय विभाग बनाये जाने की प्रक्रिया में जब तक समय लगता है, तब तक पेंशन एवं वेतन कोषागार से सम्बद्ध किया जाये। 1 जनवरी 2006 से 2010 तक छठवें वेतन मान का बकाया एरिया का भुगतान किया जाये। जिससे कर्मचारियों को भारी दिक्क्तों का सामना नही करना पडे। शासकीय विभागों की भांति कैसलेस चिकित्सा की व्यवस्था शासन के आदेशानुसार जल निगम पर तत्काल लागू की जाये। पेंशनर पर 164 प्रतिशत मंहगाई राहत के आदेश तुरन्त जारी किये जाये। धरना प्रदर्शन में जी पी शैलेन्द्र, एन के जैन, उमाचरण, नाथूराम साहू, आर पी सिंह, सपनीश श्रीवास्तव, राजकुमार यादव, दिनेश कुमार चतुर्वेदी, शैलेन्द्र कुमार सेंगर, दिनेश कुमार, हर्षित अग्रवाल, मुन्नालाल, पंकज वर्मा, के पी विश्वकर्मा, चुन्नू, रामदयाल, सुभाष आदि उपस्थित रहे। 

No comments